Wednesday , November 29 2023

200 से ज्यादा की मौत, अनगिनत बंधक और बेहाल इजरायल; गाजा बॉर्डर पर हमास ने मचाई तबाही

200 से ज्यादा की मौत, अनगिनत बंधक और बेहाल इजरायल; गाजा बॉर्डर पर हमास ने मचाई तबाही इजरायल के ऊपर हमास के हमले में मरने वालों की संख्या 200 से अधिक हो चुकी है। वहीं, 500 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। इसके अलावा बड़ी संख्या में लोगों को बंधक भी बनाया गया है। इस बीच हमास ने कुछ वीडियो फुटेज जारी किए हैं। इन फुटेज में नजर आ रहा है हमास आतंकी हमले के दौरान इजरायली आतंकियों को पकड़ रहे हैं। बता दें कि गाजा के आतंकी संगठन ने शनिवार सुबह इजरायल पर बेहद खतरनाक ढंग से हमले को अंजाम दिया। इस दौरान हजारों रॉकेट दागे गए और विभिन्न तरफ से घुसपैठ करते हुए लोगों को निशाना बनाया था।

गौरतलब है कि एक दिन पहले इजरायल ने 5वीं सालगिरह मनाई थी। इसके अगले ही दिन उसे इतने बड़े हमले का सामना करना पड़ गया। अचानक से हुए इस हमले ने इजरायली सेना और सुरक्षा बलों को पूरी तरह से हैरान कर दिया है। हमास के बंदूकधारी मिलिट्री बेस में घुस गए और सीमा पर बसे इजरायली समुदाय की तरफ बढ़ने लगे। स्थानीय लोगों ने बताया कि इस दौरान आतंकी मार रहे थे और पकड़ रहे थे। ऑनलाइन वायरल हो रही एक अन्य वीडियो क्लिप में दिखाया गया है कि आतंकी संगठन द्वारा लोगों को बंधक बनाया जा रहा है। अरबी मीडिया ने दावा किया है कि यह संख्या 52 है। पकड़े गए कुछ लोगों को मौत के घाट भी उतार दिया गया है। जारी युद्ध के बीच सेना ने फिलहाल मृतकों या बंधकों के आंकड़ों की जानकारी देने से इनकार कर दिया है।

सोशल मीडिया पर हमास लड़ाकों के कई वीडियो प्रसारित हो रहे हैं, जो चोरी हुए इजराइली सैन्य वाहनों को सड़कों पर घुमाते देखे जा सकते हैं।एक वायरल वीडियो में गाजा के भीतर एक इजराइली सैनिक के शव को फलस्तीनियों की गुस्साई भीड़ द्वारा घसीटते हुए देखा जा सकता है। मैगन डेविड एडोम रेस्क्यू सेवा ने कहा कि उसकी दो एम्बुलेंस को पकड़ लिया गया। इसके अलावा एक डॉक्टर की भी मौत हो गई। गौरतलब है कि आक्रमण शुरू होने के छह घंटे बाद, हमास आतंकवादी कम से कम सात इजरायली समुदायों और एक सैन्य अड्डे के अंदर फायरिंग कर रहे थे। इस अचानक से हुए हमले से पूरे देश को हिला दिया।

हमास की तरफ से जबरदस्त हमले के बाद नेतन्याहू और उनके गठबंधन सहयोगियों की आलोचना तेज हो गई है, जिन्होंने गाजा से खतरों के खिलाफ अधिक आक्रामक कार्रवाई का अभियान चलाया था। राजनीतिक विश्लेषकों ने योजना और समन्वय के स्तर पर हमास हमले का अनुमान लगाने में विफलता पर सरकार की आलोचना की। गौरतलब है कि हमास के अभूतपूर्व रॉकेट हमले के बाद इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने देश की जनता से कहा कि हम युद्धरत हैं। हमास की तरफ से भारी संख्या में रॉकेट दागे जाने और दक्षिणी इजराइल में चरमपंथियों की घुसपैठ के बाद नेतन्याहू ने टेलीविजन पर अपने संबोधन में यह बात कही।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch