Wednesday , February 28 2024

अब तो टूट गए हो, इतना दावा क्यों; महाराष्ट्र में उद्धव सेना के दावे पर बोली कांग्रेस, भाजपा से कब मुकाबला

अब तो टूट गए हो, इतना दावा क्यों; महाराष्ट्र में उद्धव सेना के दावे पर बोली कांग्रेस, भाजपा से कब मुकाबलाभाजपा ने लोकसभा चुनाव 2024 के लिए तैयारी शुरू कर दी है। पार्टी राज्यवार रणनीति बना रही है और सीटों पर भी मंथन चल रहा है। वहीं उसके मुकाबले को बने INDIA अलायंस में अभी आपसी मतभेद ही दूर नहीं हो पा रहे हैं। अब महाराष्ट्र में सीट बंटवारे की चर्चा से पहले ही कांग्रेस और शिवसेना के उद्धव ठाकरे गुट में भिड़ंत शुरू हो गई है। उद्धव ठाकरे गुट के नेता संजय राउत ने 23 सीटों पर लड़ने का दावा किया है, जिन पर 2019 में उसने उम्मीदवार उतारे थे और 18 पर जीत हासिल की थी। वहीं कांग्रेस का कहना है कि सीटों का बंटवारा मेरिट के आधार पर होना चाहिए। यही नहीं कांग्रेस उद्धव गुट को यह भी याद दिला रही है अब आप टूट गए हैं और शिवसेना के दो खेमे हैं।

कांग्रेस के एक नेता ने कहा, ‘देवड़ा के जीतने की अच्छी संभावनाएं हैं। यहां बड़ी संख्या मारवाड़ी, जैन और मुसलमान हैं। सेना का यहां कोई जनाधार नहीं है। यहां से दो चुनाव अरविंद सावंत ने भाजपा के साथ मिलकर जीते थे क्योंकि जैन औऱ मारवाड़ी समुदाय का समर्थन भाजपा के साथ रहा है। अब सेना बंट गई है और भाजपा के साझीदार रहने के तौर पर उसे यहां जो फायदा था, अब नहीं मिलेगा। ऐसे में मिलिंद देवड़ा को ही उतारा जाए।’ कहा जा रहा है कि इस सीट पर पेच इतना फंस गया है कि उद्धव ठाकरे ने भी कांग्रेस से बात की है और यह सीट देने में असमर्थता जताई है।

इनके अलावा नवी मुंबई, कल्याण-डोंबिवली, भिवंडी और मीरा भयंदर सीटों को लेकर भी उद्धव गुट दावेदारी कर रहा है। हालांकि कांग्रेस के राज्य नेताओं ने हाईकमान से कहा है कि वह उद्धव गुट को ज्यादा सीटें न दे। कांग्रेस नेताओं ने कहा है कि यदि भाजपा को सीटें कम पड़ीं तो उद्धव गुट उनके साथ जा सकता है। ऐसी स्थिति में उन्हें अधिक सीटें लड़ने के लिए देने का कोई फायदा नहीं है।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch