Sunday , February 25 2024

‘ममता बनर्जी, तुमने चंद मुस्लिम वोटों की खातिर…’: VHP की चेतावनी, जिन साधुओं को निर्वस्त्र कर पीटा उन्हें ही बदनाम करने में जुटी TMC

साधुओं को पीटा, ममता बनर्जीपश्चिम बंगाल के पुरुलिया में मकर संक्रांति स्नान के लिए गंगासागर जा रहे साधुओं को भीड़ ने निर्वस्त्र कर के पीटा। भाजपा ने इस घटना में राज्य की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) का हाथ होने की बात कही है। वहीं टीएमसी ने उन साधुओं को ही निशाना बनाना शुरू कर दिया है। पार्टी ने आरोप लगाया है कि भाजपा इस पूरी घटना को गलत तरीके से पेश कर रही है, बदनाम कर रही है। TMC नेता शशि पंजा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के ये आरोप मढ़े हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा हमेशा जिम्मेदारियों से भागती रही हैं। उन्होंने दावा किया कि स्थानीय लोगों ने 3 साधुओं को इसीलिए पीटा क्योंकि आरोप है कि वो साधु 3 लड़कियों का अपहरण कर रहे थे। शशि पंजा ने दावा किया कि स्थानीय लोगों ने वहाँ पहुँच कर उन लड़कियों को बचाया। उन्होंने कहा कि इसके बाद पुलिस उन साधुओं को लेकर थाने गई, अभी भी जाँच जारी है। वहीं SP अभिजीत बनर्जी ने कहा कि गौरांगडीह के पास गाड़ी में सवार इन साधुओं ने काली मंदिर पूजा के लिए जा रही महिलाओं से रास्ता पूछा था।

उन्होंने कहा कि भाषा समझ में न आने के कारण कुछ ग़लतफ़हमी हुई और उन महिलाओं को ऐसा लगा कि ये साधु उनका पीछा कर रहे हैं। इसके बाद वहाँ भीड़ पहुँच गई जो उन साधुओं को लेकर दुर्गा मंदिर गई और उनकी गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया। काशीपुर थाने की पुलिस ने बीच-बचाव किया। वहीं विश्व हिन्दू परिषद (VHP) ने भी इस घटना को लेकर आक्रोश जताया है। संगठन के अंतरराष्ट्रीय जॉइंट सेक्रेटरी ने कहा कि TMC के गुंडों द्वारा साधुओं पर किया गया हमला निंदनीय है, अस्वीकार्य है।

उन्होंने कहा, “बंगाल वो धरती है जहाँ कण-कण में माँ काली की पूजा की जाती है, जहाँ चैतन्य महाप्रभु ने जन्म लिया था, जहाँ बंकिम चंद्र चटर्जी, रवीन्द्रनाथ टैगोर, स्वामी विवेकानंद और महर्षि अरविंद घोष जैसे महान संत हुए है। उसी धरती पर ममता बनर्जी ने चंद मुस्लिम वोटों की खातिर जो हिन्दू विरोधी माहौल बना दिया है वो दुर्भाग्यपूर्ण है। काली पूजा पर हमले होते हैं, मूर्तियों का अपमान किया जाता है, हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित किया जाता है, ज़िंदा जला दिया जाता है। ममता बनर्जी, तुम्हारे इस अत्याचार को देश की जनता स्वीकार नहीं करेगी। हम इसका विरोध करते हैं।”

सुरेंद्र जैन ने आगे कहा कि ममता बनर्जी को वो चेतावनी देना चाहती हैं कि वो अविलंब अपनी पार्टी के गुंडों द्वारा किए गए इस अपराध के लिए अक्षम्य क्षमा याचना करें, पूरे देश से माफ़ी माँगें वर्ण VHP को उनके खिलाफ पूरे देश में आंदोलन करना पड़ेगा। उन्होंने कहा, “आज पूरे देश की जनता तुम्हें जवाब देगी, लेकिन तुम्हें ये समझ लेना चाहिए कि तुम्हारी इस करतूत को देश स्वीकार नहीं करेगा।” बता दें कि अप्रैल 2020 में महाराष्ट्र के पालघर में भीड़ ने 3 साधुओं और उनके एक ड्राइवर को मार डाला था, पुरुलिया की घटना के बाद जिसकी यादें ताज़ा हो गई हैं।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch