Sunday , February 25 2024

लालकृष्ण आडवाणी को मिला भारत रत्न तो बौखलाया जमात-ए-इस्लामी, बोला- बाबरी तोड़ने वालों को ईनाम दे रही सरकार, नफरत की कर रही है राजनीति

मलिक मोहतसिमभारतीय जनता पार्टी (BJP) के वयोवृद्ध नेता लालकृष्ण आडवाणी को देश का सर्वोच्च सम्मान ‘भारत रत्न’ दिए जाने के बाद जमात-ए-इस्लामी हिंद की प्रतिक्रिया सामने आई है। जमात के सचिव मलिक मोहतसिम खान ने कहा है कि मौजूदा सरकार से ऐसे ही लोगों को सम्मानित करने की उम्मीद की जा सकती है, जिन्होंने बाबरी ढाँचे को तोड़ा है।

मोहतसिम खान ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह सरकार नफरत के बलबूते अपनी राजनीति को आगे बढ़ाना चाहती है। मौजूदा सरकार ऐसे लोगों को इनाम देगी, जो अमन और शांति नहीं चाहते हैं। उन्होंने कहा कि ये देश के लोगों को सोचना चाहिए कि क्या मौजूदा सरकार कानून के हिसाब से काम कर रही है।

बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी को भारत रत्न दिए जाने के मुद्दे पर मोहतसिम खान ने आगे कहा कि इस सरकार से सवाल पूछने का कोई फायदा नहीं है, क्योंकि वो नफरत की बुनियाद पर ही अपना काम चलाना चाहती है। उन्होंने देश की जनता से अपील की है कि देश का जो माहौल बन रहा है, उसे बदलना चाहिए। जमात ने कहा कि अब न्यायालयों पर से विश्वास उठ रहा है।

ज्ञानवापी और मथुरा का भी किया जिक्र

ज्ञानवापी में पूजा-पाठ शुरू होने और कोर्ट से जुड़े मामलों को लेकर यह प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई थी। मोहतसिम खान ने कहा, “500-600 साल से यह मस्जिद वहाँ है और आज भी नमाज़ों का सिलसिला है। पड़ोस में वहाँ मंदिर होने पर मुस्लिम भाइयों को कोई शिकायत नहीं है। पड़ोस में मस्जिद होने पर हिन्दू भाइयों को भी कोई शिकायत नहीं है।”

उन्होंने आगे कहा, “एएसआई की रिपोर्ट पर कोर्ट में बहस नहीं हुई है। यह रिपोर्ट सही भी हो सकती है, गलत भी हो सकती है। इंतजामिया कमेटी हाई कोर्ट में जाना चाहती थी, लेकिन सुबह होते ही प्रशासन ने फैसला इम्पलीमेंट कर दिया गया।” उन्होंने कहा कि हाई कोर्ट और जिला कोर्ट जो मज़लूम है, उसका इंसाफ करे।

मोहतसिम खान ने कहा, “जामा मस्जिद बनारस के मामले में जो कोर्ट का रवैया है वह सही नहीं है। महरौली में एक मस्जिद थी, वह जमींदोज कर दी गई, सुनहरी मस्जिद को हटाने का मामला सामने आया। यह बात हमें परेशान कर रही है। आज काशी की बात हो रही है और कल मथुरा का आएगा।”

बता दें कि लालकृष्ण आडवाणी को ‘भारत रत्न’ सम्मान से नवाज़ा जाएगा। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक ट्वीट के जरिए ये घोषणा की है। उन्होंने कहा कि उन्हें ये बताते हुए ख़ुशी हो रही है कि पूर्व उप-प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी को ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया जाएगा। पीएम मोदी ने भाजपा के वयोवृद्ध नेता से बात करके उन्हें इसके लिए बधाई भी दी।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch