Sunday , February 25 2024

‘गिरी हुई हरकत, शर्म आनी चाहिए’: ‘मौत’ के बाद इंस्टाग्राम पर प्रकट हुईं पूनम पांडेय तो सेलेब्स ने लताड़ा, कहा – कलियुग में स्वागत है

पूनम पांडेय, इंस्टाग्रामअभिनेत्री एवं मॉडल पूनम पांडेय की टीम द्वारा उनके इंस्टाग्राम हैंडल से बताया गया कि सर्वाइकल कैंसर से उनकी मौत हो चुकी है, लेकिन एक दिन बाद ही पूनम पांडेय ने एक वीडियो डाल आकर बताया कि उन्होंने बीमारी के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए ऐसा किया था। इसी बीच कई सेलेब्स ने उन्हें श्रद्धांजलि भी दे दी। अब इनमें से कई उनकी आलोचना कर रहे हैं और कह रहे हैं कि ये सब पब्लिसिटी के लिए किया गया है। ये लोग कह रहे हैं कि चर्चा में बने रहने के लिए पूनम पांडेय ने ये सब किया है।

‘लॉकअप’ शो में कंटेस्टेंट रहीं डिजाइनर सायशा शिंदे ने कहा कि पूनम पांडेय को शर्म आनी चाहिए, उन्हें घोर निराशा हुई है। सायशा शिंदे ने भी पूनम पांडेय की मौत वाली खबर पर शोक जताते हुए पोस्ट किया था। अब उन्होंने कहा है, “तुम दोस्त बनाने लायक नहीं हो। तुम इसे जागरूकता कहती हो? बकवास बंद करो। मेरी माँ की ब्रेस्ट कैंसर सर्जरी हुई है। किडनी फेल होने से मेरी बहन का निधन हो गया। मानसिक बीमारी से मेरी चाची चल बसीं। तुम्हारी तरह वो सब कभी वापस नहीं आ सकतीं।”

सायशा शिंदे ने कहा कि मौत न कोई मजाक है, न पब्लिसिटी स्टंट। उन्होंने कहा कि वो पूनम पांडेय को कभी माफ़ नहीं करेंगी। वहीं अभिनेत्री पूजा भट्ट ने भी पूनम पांडेय के लिए शोक जताने वाला ट्वीट अब डिलीट कर लिया है। उन्होंने कहा कि ये बीमारी से जूझ रहे लोगों का अपमान है। वहीं एक्टर अली गोनी ने इसे पब्लिसिटी स्टंट बताते हुए पूछा कि क्या ये आपको मजाकिया लगता है? उन्होंने कहा कि पूनम पांडेय और उनकी PR टीम का बॉयकॉट होना चाहिए, शर्म आती है।

गायक राहुल वैद्य ने पहले ही शक जताया था कि पूनम पांडेय की मौत नहीं हुई है और पूछा था कि क्या वो अकेले हैं जो ऐसा सोचते हैं? अब उन्होंने कहा है कि सनसनी मचाने के लिए इतनी गिरी हुई हरकत की गई है, कलियुग में स्वागत है। सोफी चौधरी, कुशा कपिला और रिद्धि डोगरा का भी नाम आपत्ति जताने वालों में शामिल है। शार्दुल पंडित ने कहा कि ये बिलकुल भी ‘कूल’ नहीं है। सोनल चौहान ने इसे शर्मनाक करार दिया। श्रेनु पारेख ने कहा कि अब क्या देखना बाकी रह गया? राखी सावंत ने पूछा कि ऐसा प्रैंक कौन करता है।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch