Sunday , February 25 2024

महिला ने हनीट्रैप में फंसाकर पुलिस इंस्पेक्टर से ठगे 90 लाख रुपए, आपत्तिजनक VIDEO बनाकर करती थी ब्लैकमेल

honeytrap- India TV Hindiअलवर। राजस्थान के अलवर से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। यहां एक महिला ने एक पुलिस इंस्पेक्टर को हनीट्रैप का शिकार बनाया और उससे 90 लाख रुपए ठग लिए। हनीट्रैप का शिकार एक सिपाही भी हुआ है, उससे 6.5 लाख रुपए ठगे गए हैं।

क्या है पूरा मामला?

अलवर में एक महिला और उसके परिवार के लोग गिरोह बनाकर लोगों को ब्लैकमेल करने का काम कर रहे थे। इस गिरोह का शिकार एक पुलिस इंस्पेक्टर और एक सिपाही हुआ है। इस गिरोह ने पुलिस इंस्पेक्टर से 90 लाख रुपए और सिपाही से 6.5 लाख रुपए ठग लिए।

एसपी ने क्या बताया?

इस मामले में एसपी का बयान भी सामने आया है। एसपी आनंद शर्मा के मुताबिक, राजस्थान पुलिस के इंस्पेक्टर और एक सिपाही ने अलवर के अरावली विहार थाना में एक रिपोर्ट दी कि वह अलवर की एक महिला के संपर्क में सोशल मीडिया के माध्यम से साल 2022 में आए। इस महिला के संपर्क में आने के बाद मिलना-जुलना हुआ और महिला ने उनके आपत्तिजनक फोटो और वीडियो बना लिए।

इसके बाद महिला का गिरोह ब्लैकमेलिंग करने लगा कि या तो तुम पैसे दो, नहीं तो रेप का मामला दर्ज कराया जाएगा। इस मामले में महिला और उसके भाई-बहन भी शामिल थे। वह भी कई बार फोन करके उनसे पैसे ऐंठते थे और कहते थे या तो पैसे दे दो, नहीं तो तुम्हारे वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए जाएंगे।

डर की वजह से इंस्पेक्टर ने 90 लाख रुपए दिए। जिसमें 50 लाख रुपए नेट बैंकिंग और ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के जरिए भेजे गए और कुछ पैसे चेक के द्वारा दिए गए। बाकी के पैसे इंस्पेक्टर ने अपने साथियों से उधार लेकर दिए। इसके सर्पोटिंग डॉक्युमेंट्स उन्होंने प्रस्तुत किए हैं।

इसी मामले में फंसे एक सिपाही से 6.5 लाख रुपए ठगे गए हैं। इन लोगों ने फोन की चैटिंग सहित अन्य सबूत पेश किए हैं। इस मामले में 8 लोग आरोपी हैं। ये महिला पहले भी 7 मुकदमे दर्ज कर चुकी है, जिसमें रेप, मारपीट और खुद के पति पर भी दहेज प्रताड़ना का मुकदमा है।

पुलिस ने महिला और उसके भाई-बहन को पकड़ा

रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने महिला के घर पर रेड डाली। यहां से आपत्तिजनक सामग्री सहित अन्य दस्तावेज जब्त किए गए हैं। महिला और उसके भाई-बहन को हिरासत में लिया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch