Thursday , June 20 2024

यूपी में कांग्रेस को मिल सकती हैं ये 17 सीटें, सपा के साथ संयुक्त ऐलान से पहले लिस्ट आई सामने

यूपी में कांग्रेस को मिल सकती हैं ये 17 सीटें, सपा के साथ संयुक्त ऐलान से पहले लिस्ट आई सामनेलोकसभा चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बीच सीटों पर बात बन गई है। दोनों दलों की तरफ से साफ कर दिया गया है कि गठबंधन फाइनल हो गया है। सपा ने 17 सीटों की पेशकश की थी। इसे कांग्रेस ने स्वीकार कर लिया है। कांग्रेस ने यह भी साफ किया कि सीटों की संख्या पर कोई दिक्कत नहीं थी। दिक्कत केवल कुछ सीटों के नामों को लेकर थी। अब वह नाम भी तय हो गए हैं। दोनों दलों की संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में गठबंधन का ऐलान होने वाला है। इससे पहले उन सीटों की सूची सामने आ गई हैं जो सपा ने कांग्रेस को दी हैं।

सपा ने कांग्रेस को रायबरेली, अमेठी, कानपुर, फतेहपुर सीकरी, बांसगांव, सहारनपुर, प्रयागराज, महाराजगंज, वाराणसी, अमरोहा, झांसी, बुलंदशहर, गाजियाबाद, मथुरा, हाथरस, बाराबंकी और देवरिया सीट दी है। वाराणसी और अमरोहा समेत कई सीटों पर सपा ने प्रत्याशी भी घोषित कर दिया है। अब सपा अपने प्रत्याशियों को वापस लेगी। सूत्रों ने कहा कि सीट की संख्या को लेकर विवाद नहीं था, बल्कि इस बात पर गतिरोध बना हुआ था कि कांग्रेस को कौन-कौन सी सीट दी जा रही हैं। सपा हमें अब कुछ ऐसी सीट देने पर सहमत हो गई है जो हम लड़ना चाहते थे।

बताया जा रहा है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की सपा प्रमुख अखिलेश यादव से फोन पर हुई बातचीत के बाद यह सहमति बनी। इसके बाद अखिलेश यादव ने कहा कि उत्‍तर प्रदेश में सीट बंटवारे को लेकर सपा का कांग्रेस से कोई विवाद नहीं है और दोनों दलों के बीच गठबंधन होगा। अखिलेश ने मुरादाबाद में संवाददाताओं से बातचीत में कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो न्‍याय यात्रा’ में शामिल नहीं होने के सवाल पर कहा कि अंत भला तो सब भला। बाकी आप लोग समझदार हैं। इस सवाल पर कि कांग्रेस के साथ गठबंधन होगा या नहीं, अखिलेश ने कहा था होगा। कांग्रेस के साथ सीट बंटवारे को लेकर विवाद के सवाल पर सपा प्रमुख ने कहा कि कोई विवाद नहीं है। आपके सामने सब चीजें साफ हो जाएंगी।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch