Tuesday , June 25 2024

सीएम योगी राजभवन पहुंचे, यूपी में कैबिनेट विस्तार की उल्टी गिनती शुरू, मंत्री की अटकलों में ये नाम

सीएम योगी राजभवन पहुंचे, यूपी में कैबिनेट विस्तार की उल्टी गिनती शुरू, मंत्री की अटकलों में ये नामउत्तर प्रदेश में शनिवार को योगी कैबिनेट का विस्तार (Yogi Cabinet Expansion) हो सकता है.  इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) अचानक राज्यपाल से मुलाकात करने के लिए राजभवन पहुंच गए. सूत्रों की मानें तो सुभासपा के ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) समेत पांच विधायक शनिवार को मंत्री पद की शपथ ले सकते हैं.

सूत्रों के मुताबिक, कल होने वाले यूपी कैबिनेट के मंत्रिमंडल विस्तार में सुभासपा से ओम प्रकाश राजभर, बीजेपी से दारा सिंह चौहान, आकाश सक्सेना, राष्ट्रीय लोकदल से प्रदीप चौधरी या चंदन चौधरी और राजपाल बालियान को मंत्री पद की शपथ दिलाई जा सकती है. आकाश सक्सेना का नाम उसी समय से क्लीयर माना जा रहा था, जब उन्होंने सपा के बड़े नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खान को रामपुर में हुए उपचुनाव में हराया था.

जल्द हो सकता है कैबिनेट का विस्तार

जबसे राजभर समाजवादी पार्टी को छोड़कर एनडीए के साथ आए हैं, तभी से कयास लगाए जा रहे थे कि योगी कैबिनेट का विस्तार जल्द हो सकता है. सुभासपा के बाद जब आरएलडी भी एनडीए का साथ आ गई, उसके बाद अब लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने मंत्रिमंडल का विस्तार करने का फैसला किया है.

दिल्ली से लौटकर राजभवन पहुंचे सीएम

मंत्रिमंडल विस्तार से पहले सीएम योगी आदित्यनाथ पहले दिल्ली पहुंचे थे और वहां उन्होंने पार्टी हाईकमान के साथ इसको लेकर चर्चा की. प्रस्तावित मंत्रियों के नामों पर मुहर लगने के बाद अब सीएम ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात की है.

राजपाठ नहीं मिला तो होली नहीं मनाऊंगा- राजभर 

एनडीए में शामिल होने के बाद राजभर बीजेपी आलाकमान से भी मिल चुके हैं, लेकिन अभी तक उन्हें यूपी सरकार में मंत्री नहीं बनाया गया. अभी हाल में उन्होंने कैबिनेट में शामिल नहीं किए जाने को लेकर नाराजगी भी जताई थी. उन्होंने कहा था कि जब तक मैं राजपाठ नहीं ले लेता, तब तक मैं होली नहीं मनाऊंगा .हालांकि बाद में उन्होंने अपने बयान पर सफाई भी दी.

योगी से संबंध ठीक करने की मिली थी सलाह 

केंद्रीय नेतृत्व जब ओमप्रकाश राजभर को दोबारा बीजेपी के खेमे में ला रहा था, तो पहली शर्त यही थी कि राजभर को तुरंत मंत्री बनाया जाएगा. मगर, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इसके लिए राजी नहीं थे. बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व ने ओमप्रकाश राजभर को मुख्यमंत्री योगी से अपने संबंध ठीक करने की सलाह दी थी.

 बार-बार होती रही विस्तार की चर्चा

यूपी में काफी समय से मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चा होती रही है पर अब तक योगी कैबिनेट का विस्तार नहीं हुआ है। देखा जाए तो ओमप्रकाश राजभर और सपा नेता दारा सिंह चौहान के भाजपा के साथ आने के साथ ही यूपी मंत्रिमंडल की विस्तार की चर्चा तेज हो गई थी। इन दोनों को मंत्रिमंडल में शामिल करने की अटकलें सुर्खियों में रहीं। सहयोगी ओमप्रकाश राजभर कई बार मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर समय और डेट फाइनल कर चुके हैं। इसके बावजूद भी अभी तक मंत्रिमंडल विस्तार नहीं हो सका है।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch