Thursday , June 20 2024

टिकट कटने के बाद भाजपा सांसद बागी, भीड़ जुटाकर कर दिया खुला ऐलान

टिकट कटने के बाद भाजपा सांसद बागी, भीड़ जुटाकर कर दिया खुला ऐलानभारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की ओर से 195 सीटों पर उम्मीदवारों का ऐलान किया जा चुका है और जल्द दूसरी सूची जारी करने की तैयारी है। पहली लिस्ट में जिन सासंदों का टिकट काटा गया है उनमें एक ने बगावत का बिगुल फूंक दिया है। राजस्थान के चुरू से सांसद राहुल कस्वां ने शुक्रवार को अपने आवास पर हजारों समर्थकों को जुटाकर ना सिर्फ शक्ति प्रदर्शन किया बल्कि बगावत का भी खुला ऐलान कर दिया है।

राहुल कस्वां ने भावुक अंदाज में समर्थकों के सामने अपनी बात रखी और अपनी नाराजगी का खुलकर इजहार किया। राहुल ने समर्थकों से पूछा कि उन्हें क्या करना चाहिए। समर्थकों ने उन पर ही फैसला छोड़ा  तो कस्वां ने चुनाव लड़ने का संकेत देते हुए कहा, ‘फैसला जनता ने ले लिया है और मैंने बात सुन ली है। आपकी भावनाओं का मैं आदर करता हूं। मुझे बस आप लोगों का साथ चाहिए।’

राहुल ने बिना किसी का नाम लिए भाजपा के कुछ नेताओं पर जमकर निशाना साधा। राहुल कस्वां ने कहा कि चुरू का बच्चा-बच्चा अपने भविष्य का फैसला करेगा, यह कोई एक व्यक्ति नहीं तय कर सकता है। राहुल ने कहा, ‘यह चुनाव इस बात का फैसला करेगा कि क्या एक व्यक्ति हमारे आने वाले कल का फैसला करेगा। क्या वह व्यक्ति तय करेगा कौन जिएगा, कौन मरेगा। क्या वह व्यक्ति हमारे बच्चों के आने वाले कल का फैसला करेगा। हम करेंगे फैसला अपने आने वाले कल का। इस चुरू का बच्चा-बच्चा तय करेगा। यह लड़ाई कोई चुनाव की नहीं विचारधारा की है, एक सच्चाई और ईमानदारी के खिलाफ एक आदमी के अहंकार की लड़ाई है। मैं कभी ना झुका हूं ना झुकूंगा।’

राहुल ने कहा कि उन्हें टिकट कटने की उम्मीद नहीं थी। उन्होंने कहा कि उनका टिकट क्यों काटा गया इस बात का जवाब नहीं मिला। राहुल ने कहा, ‘मैं टिकट के निर्णय के बाद बहुत विचलित रहा। मैं आश्वत था कि लोगों के बीच में रहकर जो मैंने काम किया है उसका परिणाम अच्छा ही रहेगा। जब पता चला तो मैंने बहुत सोचा कि हुआ क्यों। पूरी रात सो नहीं पाया। मन विचलित रहा। अपनों से पूछा कि कुछ तो बता दो क्या कमी रही? मैंने बहुत से सवाल सोशल मीडिया से उठाए लेकिन मुझे जवाब नहीं मिला। मैंने एक लाइन लिखी थी कि जवाब का इंतजार है, वर्ना आप लोगों (जनता) के बीच आऊंगा।’

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch