Sunday , June 16 2024

सेक्स स्कैंडल मामले में जेडीएस सांसद प्रज्वल रेवन्ना पर ऐक्शन, पार्टी से कर दिए गए सस्पेंड

सेक्स स्कैंडल मामले में जेडीएस सांसद प्रज्वल रेवन्ना पर ऐक्शन, पार्टी से कर दिए गए सस्पेंडसेक्स स्कैंडल मामले में सांसद प्रज्वल रेवन्ना पर बड़े ऐक्शन की तैयारी हो गई है। उनका सस्पेंड होना तय है। जनता दल सेक्युलर के नेता एच.डी. कुमारस्वामी ने सोमवार को कहा कि पार्टी ने कई महिलाओं का यौन उत्पीड़न करने के आरोपों का सामना कर रहे प्रज्वल रेवन्ना को निलंबित करने का फैसला किया है।कुमारस्वामी के भतीजे प्रज्वल रेवन्ना हासन से सांसद हैं और इसी सीट से लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने इस पूरे प्रकरण से जद (एस) और गठबंधन में सहयोगी भारतीय जनता पार्टी तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अलग रखने की अपील की। उनका यह बयान राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस द्वारा भाजपा और प्रधानमंत्री से पूरे प्रकरण पर सफाई मांगे जाने के बाद आया। कुमारस्वामी ने कहा, ‘’निर्णय पहले ही लिया चुका है। कल हुबली में कोर कमेटी की बैठक में इसकी अनुशंसा की जाएगी क्योंकि वह (प्रज्वल) संसद सदस्य हैं, इसलिए इसे दिल्ली से किया जाना है। मैंने देवेगौड़ा (पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा) से अनुरोध किया है। न तो उन्हें (देवेगौड़ा को) और न ही मुझे इस पूरे प्रकरण की जानकारी थी।’

जेडीएस की कर्नाटक इकाई के अध्यक्ष कुमारस्वामी ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘कुछ मुद्दे सामने आए हैं, उसके आधार पर कल ही उन्हें (प्रज्वल रेवन्ना को) निलंबित करने का निर्णय कर लिया गया था।’’उन्होंने कहा, ‘‘अब तक, प्रज्वल रेवन्ना के खिलाफ कोई सीधा आरोप नहीं है। यदि आरोप सही हैं…तो सजा कानून के अनुसार होनी चाहिए। इससे कोई समझौता नहीं होगा। यदि प्रज्वल रेवन्ना गलत हैं, तो हमारा परिवार उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए तैयार है।’’

भाजपा और प्रधानमंत्री मोदी को इस मुद्दे पर निशाना बनाने की कांग्रेस नेताओं की कोशिश के बारे में पूछे जाने पर कुमारस्वामी ने कहा, ‘क्या मोदी प्रज्वल रेवन्ना के प्रचार के लिए आए थे? इस मामले से मोदी का क्या लेना-देना? इससे भाजपा का क्या लेना-देना है? इसे उनके साथ क्यों जोड़ा जाए? देवेगौड़ा या कुमारस्वामी का इससे क्या लेना-देना है?’

इससे पहले कुमारस्वामी ने कहा था, ‘एसआईटी का गठन किया गया है, अगर जांच में (अपराध) साबित होता है, जो भी शामिल है उसे सजा भुगतनी होगी। जिसने भी गलत किया है उसे देश के कानून के अनुसार झुकना होगा… हम कठोर कार्रवाई करेंगे। पार्टी द्वारा उनका बचाव किए जाने का कोई सवाल ही नहीं है।’’जेडीएस के प्रदेश अध्यक्ष कुमारस्वामी ने पूरे विवाद में अपने पिता और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा सहित परिवार के अन्य सदस्यों का नाम घसीटे जाने पर कड़ी आपत्ति जताई।

उन्होंने कहा, ‘मैं कांग्रेस नेताओं से पूछना चाहता हूं कि इसमें परिवार को क्यों ला रहे हैं? व्यक्ति के बारे में चर्चा करें। यहां एक व्यक्ति और उसके कार्यों का सवाल है, परिवार का नहीं… परिवार का नाम, देवेगौड़ा का नाम या कुमारस्वामी का नाम क्यों लाया जा रहा है? मैंने खुद कहा है कि जिसने भी गलत किया है उसे सजा भुगतनी होगी।’

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch