Monday , July 22 2024

1 ट्रिलियन डॉलर का आंकड़ा छूने वाली पहली US कंपनी बनी ऐपल

नई दिल्ली। ऐपल गुरुवार को एक ट्रिलियन डॉलर (लगभग साढ़े 68 लाख करोड़ रुपये) मार्केट कैप वाली पहली पब्लिक लिस्टेड कंपनी बन गई है. ऐपल के शेयर में गुरुवार को कुछ गिरावट आई लेकिन जल्द ही शेयर तेजी से बढ़ा. शेयर में उछाल की वजह से कंपनी का मार्केट कैप 1000 अरब डॉलर हो गया.

ऐसे में एक ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचने वाली कंपनियों में ऐपल अमेरिका की पहली और दुनिया की दूसरी कंपनी बन गई है. इससे पहले नवंबर 2007 में शंघाई के शेयर बाजार में पेट्रोचाइना का मार्केट वैल्युएशन इस स्तर पर पहुंचा था. 2007 में पेट्रोचाइना कंपनी ने 1 ट्रिलियन डॉलर के मार्केट कैप का आंकड़ा छुआ था. एक ही दिन में कंपनी इस मार्केट कैप से नीचे आ गई. मार्च 2008 तक वह 500 अरब डॉलर पर आ गई.

1980 में लिस्टेड कंपनी बनने के बाद से अब तक ऐपल ने 50 हजार फीसदी की बढ़ोतरी की है. हालांकि अमेजन और अल्फाबेट भी ऐपल से ज्यादा दूर नहीं हैं. अमेजन का मार्केट कैप (डॉलर) 879 अरब और अल्फाबेट मार्केट कैप (डॉलर) 842 अरब है.

बता दें कि साल 1976 में स्टीव जॉब्स, स्टीव वोजनियाक और रोनाल्ड वेन ने पर्सनल कंप्यूटर बनाने के लिए ऐपल कंपनी की स्थापना की थी. इसके अलावा कंपनी ने कई दूसरे प्रोडक्ट जैसे आईफोन, आईपैड, मैक-मिनी, आई-पॉड, आई-ट्यून्स, स्मार्टवॉच लॉन्च किए. देखते ही देखते कंपनी ने ऐसी तरक्की की कि सैमसंग, इंटेल, माइक्रोसॉफ्ट, नोकिया जैसी कंपनियों को झटका देते हुए ऐपल के सभी प्रोडक्ट मार्केट में छा गए.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About admin