Monday , July 15 2024

इमरान खान के खिलाफ विपक्ष उतारेगा पीएम उम्मीदवार, सात दलों ने मिलाया हाथ

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की राजनीति में बड़ी हलचल होती दिख रही है. पाकिस्तान में इमरान खान के खिलाफ मुसीबत खड़ी होती दिख रही है. विपक्ष ने इमरान खान के कुर्सी तक पहुंचने की राह में रोड़े अटकाने की पुरजोर कोशिश की है. नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग और बिलावल भुट्टो की पार्टी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी समेत आठ दल इमरान खान के सामने संसद में पीएम का उम्मीदवार खड़ा करने वाले हैं. विपक्षी दलों की ओर से पीएम का उम्मीदवार नवाज शरीफ की ही पार्टी का होगा.

इमरान खान फिलहाल कोशिश में है बहुमत के लिए और छोटे दलों और निर्दलीय उम्मीदवारों को साथ लाया जाए. विपक्ष उन्हें आसानी से पीएम बनने नही देना चाहता और कमाल की बात है कि इमरान को आउट करने के लिए भुट्टो की पार्टी और शरीफ की पार्टी एक साथ खड़ी हो गई है.

क्या कहता है सीटों का आंकड़ा?कुल 270 सीट पर चुनाव हुए बहुमत के लिए 136 सीटें चाहिए. इमरान खान की पार्टी को 116, इमरान – 116, निर्दलीय – 8, अवामी मुस्लिम लीग 1, PMLQ 4, बलूचिस्तान अवामी पार्टी 4, ग्रैंड डेमोक्रेटिक एलायंस 2 और MQM(P) के हिस्से 6 सीटें आई थीं.

इसके अलावा इमरान की पार्टी का दावा है कि बलूचिस्तान नेशनल पार्टी, तहरीक-ए-इंसानीयत और जम्हूरियत वतन पार्टी भी उसके साथ है. यानी 144 सीट के साथ इमरान खान बहुमत का दावा कर रहे हैं. बता दें कि इमरान ने पांच सीटों से चुनाव लड़ा था, इमरान 4 सीट छोड़ेंगे इसके साथ ही इमरान के दो नेता 1-1 सीट छोड़ेंगे. इसके बाद भी इमरान खान की पार्टी के 138 सीट बचतीं हैं जो बहुमत से ज्यादा हैं.

विपक्षी महागठबंधन की बात करें तो नवाज शरीफ की पार्टी पीएमएलएन 64, पीपीपी 43, एमएमए 12, एएनपी 1 और पांच निर्दलीय के भी साथ आने की बात कही जा रही है. यह पूरा आंकड़ा 125 तक पहुंचता है जो बहुमत से बहुत दूर है.

शपथ ग्रहण से पहले ‘संग्राम’
पाकिस्तान के भावी प्रधानमंत्री इमरान खान का शपथ ग्रहण समारोह 11 अगस्त को होना है, लेकिन उससे पहले उनके भारतीय मेहमानों पर संग्राम छिड़ा हुआ है. इमरान ने कपिल, गावस्कर, सिद्धू जैसी क्रिकेट हस्तियों को न्योता भेजा है, अब कहा जा रहा है कि अगर ये पाकिस्तान गए तो इन्हें भी आतंकी माना जाना चाहिए. लेकिन खुद सिद्धू और कपिल कह रहे हैं कि अगर जाने का मौका मिले तो वो जरूर पाकिस्तान जाएंगे और इससे दोनों देशों के बीच रिश्ते भी सुधरेंगे.

पूर्व क्रिकेटर और पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पाकिस्तान से आए न्योते पर काफी खुश हैं और इमरान खान की तारीफों के पुल बांध रहे हैं. सिद्धू कह रहे है कि इमरान खान के न्योते पर पाकिस्तान जाना मेरे खबर है कि किसी भी राजनीतिक विदेशी मेहमान को बुलावा नहीं है. लेकिन भारत के जिन पुराने क्रिकेटरों को बुलावा मिला है उसको लेकर विवाद खड़ा हो गया है.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About admin