Monday , July 15 2024

UP के बस्ती में गिरा निर्माणाधीन फ्लाईओवर, 4 जख्मी, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

बस्ती। देश में बारिश के चलते निर्माणाधीन इमारत और फ्लाईओवर गिरने का सिलसिला लगातार जारी है. शनिवार सुबह 7.30 बजे उत्तर प्रदेश के बस्ती में नेशनल हाईवे 28 पर निर्माणाधीन फ्लाईओवर अचानक ढह गया. फ्लाईओवर का 60 फीसदी से अधिक काम पूरा हो चुका था.

पुल की चपेट में आने से चार लोग जख्मी हो गए जबकि एक शख्स अभी भी मलबे में दबा हुआ है. घायलों को तुरंत नजदीकी अस्पताल पहुंचाया गया. मलबे में दबे लोगों को निकालने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन अब भी जारी है. इलाके में यातायात ठप हो गया है.

जानकारी के मुताबिक एनएचएआई के द्वारा इस पुल का निर्माण करोड़ों की लागत से हो रहा था. लेकिन इसके तैयार होने से पहले ही एनएचएआई की लापरवाही सामने आ गई. मौके पर प्रशासन की टीम ने पहुंचकर जांच शुरू कर दी है. वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्थानीय प्रशासन को तुरंत राहत पहुंचाने का आदेश जारी किया है ताकि इलाके में यातायात फिर से शुरू हो सके.

सिलिगुड़ी में भी गिरा पुल

पश्चिम बंगाल स्थित सिलिगुड़ी के गोलतुली इलाके में शनिवार सुबह पुल गिर गया. यहां एनएच- 31डी रेलवे फ्लाईओवर का एक हिस्सा गिर गया. हालांकि इस हादसे में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है.

लखनऊ में बिल्डिंग गिरने से हुई थी बच्ची की मौत

हाल ही में यूपी की राजधानी लखनऊ के गणेशगंज इलाके में एक बिल्डिंग गिरने से एक बच्ची की मौत हो गई. इलाके में हो रही भारी बारिश से के चलते यह हादसा हुआ था. गणेशगंज में गिरने वाली यह बिल्डिंग 60-70 साल पुरानी थी. इस बिल्डिंग में परिवार के 6 लोग और एक आया समेत कुल 7 लोग थे, बिल्डिंग के मलबे में दो लोग दब गए थे. इनमें से एक बच्ची की मौत हो गई.

हुसैन और अमीनाबाद में भी गिरी थीं इमारत

पिछले हफ्ते ही लखनऊ के हुसैन में बिल्डिंग के गिर जाने से दो लोगों की मौत हो गई. जबकि तीन लोग घायल हैं. तो वहीं लखनऊ के ही अमीनाबाद में दूसरी बिल्डिंग गिरी थी, हालांकि इसमें किसी का कोई नुकसान नहीं हुआ था.

ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी में भी हुआ था हादसा

नोएडा के शाहबेरी गांव में भी पिछले महीने छह मंजिला दो इमारतें ढहने से तीन लोगों की मौत होने हो गई थी. इस मामले में पुलिस में तीन लोगों को गिरफ्तार किया था.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About admin