Thursday , July 25 2024

तिरंगे के लिए पोल लगा रहे थे बच्चे, ऊपर से गुजर रही थी हाईटेंशन लाइन, करंट लगने से हालत गंभीर

कानपुर। स्वतंत्रता दिवस के मौके पर परिषदीय स्कूल में झंडारोहण के लिए बच्चे और टीचर पोल लगा रहे थे. लोहे का पोल ऊपर से गुजर रही 11 हजार वोल्ट की हाईटेंशन लाइन से टकरा टकरा गया जिसकी वजह से पोल में करंट आ गया. करंट की चपेट में चार बच्चे और एक टीचर आकर गंभीर रूप से झुलस गए. घटना से मौके पर हड़कंप मच गया. सभी घायलों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया. बच्चों की हालत गभींर है और उन्हें जिला अस्पताल रेफर किया गया है.

कानपुर देहात के मंगलपुर थाना क्षेत्र स्थित जैतापुर गांव के परिषदीय स्कूल में झंडरोहण की तैयारियां चल रही थीं. प्राइमरी और परिषदीय विद्यालय के बच्चे मिलकर खंभे में लोहे का पोल बांधने का काम कर रहे थे. तभी ऊपर से गुजर रही 11 हजार वोल्ट की लाइन से झंडारोहण का पोल टकरा गया. स्कूल के चार बच्चे ऋषभ, लोकेंद्र (12), धीरज (10), दुष्यंत(10) और टीचर लक्षण सिंह करंट की चपेट में आ गए.

परिषदीय स्कूल के प्रिंसिपल बलवान सिंह ने बताया कि बच्चे और टीचर झुलस गए हैं. सभी को पास के सीएचसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. दो बच्चों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इस घटना की जानकारी खंड शिक्षाधिकारी और बीएसए कार्यालय को दे दी गयी है.

उन्होंने कहा कि बच्चों का उपचार कराया जा रहा है, देखरेख के लिए हम लोग खुद मौजूद हैं. उनके उपचार में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरती जा रही है. बच्चों के साथ यह बड़ी दुखद घटना घटी है. खंड शिक्षा अधिकारी अनूप कुमार के मुताबिक घटना की जाँच कराई जाएगी. जब ऊपर से बिजली का तार गुजर रहा था तो यह काम बच्चों से क्यों कराया गया, इस पर जांच की जाएगी.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About admin