Sunday , July 14 2024

अटल जी के बारे में सही साबित हुई महाकवि नीरज की भविष्‍यवाणी!

नई दिल्‍ली। महाकवि गोपाल दास ‘नीरज’ और अटल बिहारी वाजपेयी ने कानपुर के डीएवी कॉलेज से पढ़ाई की थी. उस दौरान ही उनका परिचय हुआ और मिलना-जुलना रहा था. नीरज महाकवि होने के साथ ज्‍योतिष शास्‍त्र में भी पारंगत माने जाते थे. इस कारण महाकवि ने आकलन करते हुए कहा था कि उन दोनों ही लोगों की कुंडली काफी हद तक एक जैसी है. दैनिक जागरण की इस रिपोर्ट के मुताबिक इसी कारण 2009 में नीरज ने भविष्‍यवाणी करते हुए कहा कि उनकी और वाजपेयी के निधन में एक महीने से ज्‍यादा का अंतर नहीं होगा. वास्‍तव में उनका आकलन सही साबित हुआ. नीरज का 19 जुलाई को निधन हुआ और उसके 29 दिन बाद अटल बिहारी वाजपेयी का निधन हुआ.

महाकवि नीरज ने कुंडलियों के आकलन के आधार पर कहा भी था कि उन दोनों ही लोगों को अपने-अपने क्षेत्र में शीर्ष पर जाना था. नीरज ने साहित्‍य और कला के क्षेत्र में ख्‍याति हासिल की और उनके गीत दुनियाभर में मशहूर हुए. वहीं अटल बिहारी वाजपेयी राजनीति के शिखर पुरुष बने. सिर्फ इतना ही नहीं 2009 के एक इंटरव्‍यू में नीरज ने यह भी कहा कि जीवन के अंतिम पड़ाव में हम दोनों को ही गंभीर रोगों से जूझना पड़ेगा. उनकी ये बात भी सही साबित हुई.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About admin