Wednesday , October 28 2020

कैलाशनाथ की शरण में राहुल गांधी, कांग्रेस बोली बीजेपी क्यों है इतनी व्याकुल?

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को अपनी कैलाश मानसरोवर यात्रा से पहले बृहदारण्यक उपनिषद का एक मंत्र ट्वीट करके असत्य से सत्य की ओर, अंधकार से प्रकाश की ओर, और मृत्यु से अमरता की ओर जाने की कामना की. उनके द्वारा पोस्ट किए गए मंत्र की अंतिम पंक्ति है- ॐ ‘शान्ति: शान्ति: शान्ति:’, हालांकि उनकी यात्रा शुरू होने से पहले ही हंगामा मच गया है.

 

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने उनकी यात्रा पर सवाल उठाते हुए कहा था कि राहुल गांधी ‘चायनीज गांधी’ की तरह बर्ताव कर रहे हैं. पटलवार करते हुए कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि ‘शिव-भक्त’ राहुल गांधी की कैलाश से बीजेपी क्यों व्याकुल हो रही है. उन्होंने कहा, ‘राहुल गांधी की कैलाश मानसरोवर यात्रा से बीजेपी और पीएम मोदी क्यों व्याकुल हो रहे हैं? क्या वो नहीं जानते हैं कि कैलाश मानसरोवर कहां है? क्या वो नहीं जानते हैं कि कैलाश मानसरोवर चीन के तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र में है.’

यात्रा का कारण 
उन्होंने कहा, ‘राहुल गांधी एक धार्मिक और आध्यात्मिक यात्रा पर भगवान शिव के निवास स्थल कैलाश मानसरोवर पर जा रहे हैं, जो आज शुरू होगी. सभी देशवासियों ने शिव भक्त राहुल जी को अपनी शुभकामनाएं दी हैं.’

उन्होंने कहा कि कर्नाटक चुनाव के दौरान राहुल गांधी एक हवाई दुर्घटना में बाल-बाल बचे थे, जिसकी पुष्टि अब डीजीसीए ने कर दी है. इसके बाद उन्होंने कैलाश मानसरोवर जाने का निश्चय किया ताकि अपने लिए और सभी देशवासियों के लिए उनका आशीर्वाद पा सकें.

इससे पहले बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी में चीन के लिए विशेष प्रेम है. उन्होंने कहा, ‘क्यों मिस्टर गांधी हर मामले को चीन के नजरिए से देखते हैं लेकिन भारतीय नजरिए से क्यों नहीं देखते? मिस्टर राहुल गांधी चाइनीज प्रवक्ता की तरह बर्ताव कर रहे हैं न कि भारतीय प्रवक्ता की तरह? आप राहुल गांधी हैं, चाइनीज गांधी नहीं. आप क्यों हमेशा पड़ोसी देश के पक्ष में बोलते रहते हैं.’

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति