Saturday , March 6 2021

नवजोत सिंह सिद्धू ने दिया नारा, ‘बुरे दिन जाने वाले हैं, राहुल गांधी आने वाले हैं…’

हैदराबाद। तेलंगाना विधानसभा चुनाव में प्रचार के लिए हैदराबाद पहुंचे पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने नया नारा दिया है. सिद्धू ने कहा, ‘हम राहुल गांधी के सिपाही हैं, मेरा नारा है कि बुरे दिन जाने वाले हैं और राहुल गांधी आने वाले हैं. लाल किला पर झंडा फहराने वाले हैं, कोई रोक सके तो तो रोको.’ न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में नवजोत सिंह सिद्धू ने उनके पाकिस्तान जाने पर मचे विवाद पर कहा कि जब मैं पाकिस्तान गया था और वहां से लौटकर करतारपुर कॉरिडोर की बात की थी तब लोगों ने मेरा मजाक बनाया था. अव वही लोग अपने बयान से यूटर्न ले रहे हैं और खुद को गलत ठहरा रहे हैं.

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के मना करने के बावजूद पाकिस्तान जाने के सवाल पर सिद्धू ने कहा, ‘पंजाब के मुख्यमंत्री ने मुझे पाकिस्तान जाने से मना किया था, लेकिन 20 और कांग्रेसियों ने मुझे जाने को कहा था. केंद्रीय नेतृत्व से मुझे पाकिस्तान जाने को कहा था. पंजाब के सीएम मेरे पिता समान हैं. मैं उनसे पहले ही बता चुका था कि मैं पाकिस्तान जाऊंगा.’

मालूम हो कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में नवजोत सिंह सिद्धू गए थे. वहां से लौटने के बाद उन्होंने करतारपुर कॉरिडोर की बात की थी. अब दोनों देशों ने करतारपुर कॉरिडोर खोलने पर राजी हो गए हैं. करतारपुर कॉरिडोर शुरू करने के लिए आयोजित कार्यक्रम में पाकिस्तान गए सिद्धू ने इमरान खान और वहां की सरकार की काफी तारीफ की थी. इसके अलावा सिद्धू ने पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल बाजवा से गले मिलते हुए भी दिखे थे.

इस पर केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर ने गुरुवार को पंजाब के मंत्री और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू को पाकिस्तान का एजेंट बता दिया. कौर ने सिद्धू पर निशाना साधते हुए कहा कि जिस पाकिस्तानी जनरल कमर जावेद बाजवा ने हमारे जवानों की हत्या की सिद्धू उससे गले मिल रहे थे. नवजोत सिंह सिद्धू ने जनरल के साथ तीन दिन पाकिस्तान में बिताए. बता दें कि बुधवार (28 नवंबर) को पाकिस्तान में करतारपुर साहिब कॉरिडोर की आधारशिला रखने के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में सिद्धू पाकिस्तान के आर्मी चीफ बाजवा से गले मिले थे.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति