Saturday , April 20 2024

धोनी का फॉर्म और रोहित के लड़ने का जज्बा, फैंस के लिए शानदार होगा यह मैच

आईपीएल के 12वें सीजन के 15वें मैच में  कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के शानदार फार्म के दम पर आत्मविश्वास से ओतप्रोत चेन्नई आईपीएल के मैच में बुधवार को मुंबई से खेलेगी. टूर्नामेंट की सबसे कामयाब दो टीमों के बीच मौजूदा सत्र का पहला मुकाबला दिलचस्प रहेगा. तीन बार की चैम्पियन चेन्नई सुपर किंग्स लगातार तीन जीत दर्ज करके अंकतालिका में शीर्ष पर है. दूसरी ओर मुंबई ने तीन में से दो मैच हारे और एक जीता है.

दोनों टीमों के बीच पिछले पांच मुकाबलों में से चार मुंबई ने जीते. कुल मिलाकर दोनों के बीच 26 मैच खेले गए जिनमें से 14 मुंबई ने जीते. इस बार चेन्नई का पलड़ा भारी लग रहा है और खास तौर पर धोनी शानदार फार्म में है जिन्होंने राजस्थान रायल्स के खिलाफ पिछले मैच में 46 गेंद में 75 रन बनाए. इस मैच में चेन्नई का शीर्ष क्रम नहीं चला था. मुंबई के खिलाफ जीत सुनिश्चित करने के लिए चेन्नई के शीर्ष क्रम को अपनी लय हासिल करनी होगी.

चेन्नई की बल्लेबाजी vs मुंबई की गेंदबाजी
चेन्नई के पास बल्लेबाजी में गहराई है और स्पिन गेंदबाजी में विविधता है जबकि मुंबई के पास बेहतर तेज आक्रमण है. मुंबई की टीम अपने सलामी बल्लेबाजों रोहित और दक्षिण अफ्रीका के क्विंटन डिकाक पर काफी निर्भर है जबकि बाकी बल्लेबाजों को प्रदर्शन में सुधार करना होगा. बेहतर गेंदाबाजी होने के बाद भी रोहित शर्मा चाहेंगे कि उनके गेंदबाज अपने प्रदर्शन में वापसी करें क्योंकि वे पिछले मैच में पंजाब के बल्लेबाजों को चुनौती नहीं दे पाए थे. बुमराह को चेन्नई के बल्लेबाज कैसे खेलते हैं यह देखना भी दिलचस्प होगा.

MS Dhoni

मलिंगा हो सकते हैं बाहर
मेजबान के पास वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज अलजारी जोसेफ या हरफनमौला बेन कटिंग को खराब फार्म से जूझ रहे लसिथ मलिंगा की जगह उतारने का मौका है. वहीं स्पिन विभाग में मुंबई की टीम पीछे है क्योंकि चेन्नई के पास हरभजन जैसा अनुभवी स्पिनर है. उनके अलावा दक्षिण अफ्रीका के इमरान ताहिर और रविंद्र जडेजा भी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं.

मुंबई पीछे लेकिन कर सकती है कभी भी वापसी
इस मैदान पर पिछले मैच में दिल्ली ने मुंबई को हरा दिया था. मेजबान टीम दिल्ली के दिए 213 रनों के लक्ष्य का पीछा करने में बुरी तरह नाकाम रही थी और 176 रन के स्कोर पर ही सिमट गई थी. इस मैच में युवराज सिंह की फिफ्टी भी बेकार गई थी. मुंबई की एक और चेन्नई की तीन जीत के अंतर को देखें तो आत्मविश्वास चेन्नई का ही ज्यादा होगा, लेकिन धोनी जानते हैं मुंबई कभी भी वापसी कर सकती है. मुंबई ने इससे भी बुरे हालातों में वापसी की है.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch