Friday , April 19 2024

कोलकाता के गेंदबाज ने खोला राज, कैसे आंद्रे रसेल से वापसी में मिली मदद

भारत में क्रिकेट के जुनून बहुत ज्यादा है जो इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आने से और बढ़ गया है. देश में हजारों प्रतिभाशाली खिलाड़ी ऐसे हैं जो टीम इंडिया में जगह पाने के लिए अब भी तरस रहे हैं. उन्हीं में से सौकड़ों खिलाड़ियों के लिए आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन करना ही ऐसा मौका होता है, जब वे खुद को साबित कर आगे बढ़ सकते हैं. ऐसे ही एक युवा तेज गेंदबाज हैं प्रसिद्ध कृष्णा. प्रसिद्ध ने हाल ही में बताया कि उन्हें अपनी गेंदबाजी में सुधार के लिए कैसे वेस्टइंडीज के तूफानी बल्लेबाज आंद्रे रसेल से मदद मिली.

आईपीएल में टीम कोलकाता के लिए खेलने वाले पेसरक कृष्णा ने कहा है कि वे अपने खेल में निरंतरता पर काम कर रहे हैं. उनका मानना है कि निरंतरता किसी भी गेंदबाज के लिए बहुत बड़ा अस्त्र है. कृष्णा को बीते सीजन ज्यादा मैच खेलने का मौका नहीं मिला था, लेकिन वह इस सीजन टीम की रणनीति का अहम हिस्सा हैं. उन्होंने अभी तक टीम के तीनों मैच खेले हैं.

निरंतरता के अलावा वैरिएशन पर भी काम किया
कृष्णा ने यहां संवाददाताओं से कहा, “निरंतरता बड़ा हथियार है. यह ऐसी चीज है जिस पर मुझे काम करने की जरूरत है. मैंने साथ ही अपने वैरिएशन पर भी काम किया है.”23 साल के इस खिलाड़ी ने कहा, “मैं ज्यादा तेजी चाहता हूं क्योंकि यह ऐसी चीज है जो हर कोई हासिल नहीं कर सकता. मैं निरंतर ऐसा करना चाहता हूं.”

KolkataKnightRiders

@KKRiders

Calm & Composed ?@prasidh43 @NokiamobileIN

100 people are talking about this
कैसे की रसेल ने मदद 

कृष्णा ने कहा कि आंद्रे रसेल के खिलाफ गेंदबाजी करने से उन्हें फायदा हुआ है. उनका मानना है कि वेस्टइंडीज के इस खतरनाक बल्लेबाज को गेंद करने से उन्हें आत्मविश्वास मिला है. कृष्णा ने कहा, “रसेल के खिलाफ गेंदबाजी करना तैयारी करने के लिए सबसे उपुयक्त है. इससे आपके आत्मविश्वास को फायदा पहुंचता है. रसेल अभ्यास में भी इसी तरह से बल्लेबाजी करते हैं और काफी दूर तक गेंद को मारते हैं. एक गेंदबाज के तौर पर हम जानते हैं कि हम विश्व के खतरनाक बल्लेबाज के खिलाफ गेंदबाजी कर रहे हैं.”

विराट और डिविलियर्स के खिलाफ मौका
कोलकाता को अपना अगला मैच एम.चिन्नास्वामी स्टेडियम में बेंगलोर के खिलाफ खेलना है. कृष्णा ने कहा कि बेंगलोर के कप्तान विराट कोहली और अब्राहम डिविलियर्स के सामने गेंदबाजी करने से उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा. उन्होंने कहा, “मैं विश्व के दो सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों के खिलाफ गेंदबाजी करूंगा. यह मेरे लिए चुनौती होगी लेकिन अगर मैं अच्छा कर सका तो इससे मेरे आत्मविश्वास को फायदा होगा.”

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch