Tuesday , April 16 2024

भारतीय वायुसेना ने दिखाए पाकिस्तान के F-16 को मार गिराने के सबूत

नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना ने अमेरिकी मैगजीन में छपी रिपोर्ट के दावे को खारिज कर F-16 मार गिराए जाने का सबूत भी पेश किया है. अमेरिकी मैगजीन में छपी एक रिपोर्ट में दावा किया गया था कि 27 फरवरी को पाकिस्तान ने F-16 भारत के खिलाफ नहीं उतारा था जिसे वायुसेना ने मार गिराया था. अमेरिकी मैगजीन के अनुसार पाकिस्तान में सभी F-16 विमान सुरक्षित हैं.

भारतीय वायुसेना ने अपने आधिकारिक बयान में कहा है कि भारतीय वायुसेना के पास न केवल विश्वसनीय साक्ष्य हैं जो साबित करते हैं कि पाकिस्तान ने अमेरिकी फाइटर प्लेन F-16 का इस्तेमाल किया था बल्कि वायुसेना की जवाबी कार्रवाई में मिग-21 से F-16 के मार गिराने के भी सबूत हैं.

भारतीय वायुसेना ने F-16 को मार गिराने का रडार इमेज भी जारी किया है जिसमें दिख रहा है कि एयरफोर्स के विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तान के एफ-16 को निशाना बनाया है.

एयर वाइस मार्शल आरडीके कपूर ने कहा, ‘हमारे पास विश्वसनीय सूत्र हैं जो साबित करते हैं कि पाकिस्तान ने अपना F-16 फाइटर प्लेन खो दिया है. लेकिन सुरक्षा कारणों और गोपनीयता के चलते हम इसे पब्लिक डोमेन में साझा नहीं कर सकते.’

एयर वाइस मार्शल आरजीके कपूर ने कहा कि हमारे रडार इमेज में यह कैप्चर किया गया है कि पाकिस्तान ने तीन F-16 विमान इस्तेमाल किया था.

भारतीय वायुसेना का दावा है कि पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ कई आमराम मिसाइल इस्तेमाल किए. जिसके जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के F-16 को भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन ने अपने मिग-21 बाइसन से मार गिराया. जिसकी तस्वीर रडार इमेज में भी है. पाकिस्तान के F-16 फाइटर प्लेन के टुकड़े एलओसी और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में गिरे. इस जवाबी कार्रवाई में भारत का एक मिग-21 भी क्षतिग्रस्त हुआ था लेकिन इसके पायलट विंग कमांडर अभिनंदन सुरक्षित तौर पर पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में इजेक्ट कर गए. जिसके बाद पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन को अपने कब्जे में ले लिया.

भारतीय वायुसेना ने एक बयान जारी कर कहा है कि 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना ने बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े आतंकी शिविर को तबाह किया था. भारत को जैश के ट्रेनिंग की खुफिया जानकारी मिली थी. भारत की यह सैन्य कार्रवाई नहीं थी.

एयरफोर्स ने कहा, ‘इसमें कोई शक नहीं है 27 फरवरी 2019 को एरियल मैनेजमेंट के चलते 2 एयक्राफ्ट मार गिराए गए. जिका हमारे पास इलेक्ट्रॉनिक सिग्नेचर और रेडियो ट्रांसक्रिप्ट भी हैं.’

एयरफोर्स के मुताबिक पाकिस्तान एयरफोर्स ने भारत के सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की थी. हालांकि पाकिस्तान के प्रयासों को भारत ने असफल कर दिया था. पाकिस्तानी वायुसेना ने भारत की कई जगहों पर बमबारी की थी लेकिन भारतीय सैन्य ठिकानों को नुकसान पहुंचाने में वे असफल रहे.

अमेरिका की एक पत्रिका ने दावा किया है कि पाकिस्तान के सभी F-16 लड़ाकू विमान सुरक्षित मौजूद हैं. ये विमान पाकिस्तान ने अमेरिका से खरीदे थे. अमेरिका की पत्रिका फॉरेन पॉलिसी ने अमेरिकी सुरक्षा अधिकारियों के हवाले से दावा किया है कि 27 फरवरी को भारत की ओर से एक अमेरिकी F-16 विमान को मार गिराने का दावा गलत हो सकता है.” फॉरेन पॉलिसी ने कहा है कि ये सूचना उन्हें अमेरिका के दो रक्षा अधिकारियों के हवाले से मिली है जो इस मामले से सीधे जुड़े हैं.

इससे पहले भी भारतीय थल सेना, वायुसेना और नौसेना ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर F-16 के मार गिराने के सबूत पेश किए थे. सेना ने बताया था कि भारतीय सीमा में पाकिस्तान का फाइटर प्लेन एफ-16 आया. सेना ने एफ-16 में लगने वाले मिसाइल के टुकड़े भी मीडिया को दिखाए थे.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch