Monday , April 15 2024

ट्रांसलेटर नहीं समझ सके राहुल की इंग्लिश, जमकर उड़ा मजाक, वीडियो वायरल

चेन्नई। दक्षिण भारत में चुनाव प्रचार में लगे नेताओं के ट्रांसलेटर कुछ ना कुछ ऐसा बोल या कर जाते हैं कि जिससे उनका मजाक बन जाता है. ताजा वाकया कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ हुआ है. वो मंगलवार को चुनाव प्रचार के लिए केरल पहुंचे थे. यहां वो एक रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर विभिन्न मुद्दों पर निशाना साध रहे थे, लेकिन उनके भाषण को ट्रांसलेट कर रहे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी.जे कुरियन के कारण वो ट्रोल हो गए. जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

दरअसल, राहुल गांधी इंग्लिश में भाषण दे रहे थे. उनके भाषण को स्थानीय भाषा में ट्रांसलेट करने के लिए मंच पर राहुल के बगल में कांग्रेस नेता पी.जे कुरियन मौजूद थे. राहुल गांधी ने इंग्लिश में कहा कि मोदी लोगों से यह कहते हैं कि मुझे प्रधानमंत्री नहीं चौकीदार बनाइए. लेकिन यह बात पी.जे कुरियन को समझ नहीं आई. यह देख राहुल को भी हंसी आ गई. वो दोबारा पी.जे कुरियन के पास पहुंचे और उनके करीब जाकर दोबारा लाइनें बताई. तब जाकर उन्हें राहुल की बात समझ सके.

इस वाकये के कुछ ही देर बाद राहुल ने कहा मोदी ने देश की जनता के वोट पाए और वो देश के बजाय अनिल अंबानी के चौकीदार बन गए. राहुल की यह बात भी पी.जे कुरियन नहीं समझ पाए. राहुल ने दोबारा करीब जाकर अपनी बात फिर से कही.

राहुल को लगा कि शायद अब पी.जे कुरियन समझ सके, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. राहुल खुद भी अपनी हंसी नहीं रोक पाए. राहुल ने आगे कहा कि अनिल अंबानी ने कभी एयरक्राफ्ट नहीं बनाया. उन्हें 30 हजार करोड़ रुपये मोदी जी ने दे दिये. विश्व का सबसे बड़ा डिफेंस कॉन्ट्रैक्ट दे दिया गया. लेकिन यह बात भी वो समझ नहीं पाए. वो राहुल गांधी से सवाल पूछने लगे. राहुल के इस वीडियो को सोशल मीडिया पर खूब ट्रोल किया जा रहा है. सोशल मीडिया यूजर्स यह कह रहे हैं कि ये तो दुनिया के सबसे बेस्ट कॉमेडी एक्टर है. कपिल शर्मा के शो की जगह इन्हें चलाया जाना चाहिए.

राहुल के बॉडी गार्ड्स को भी ट्रोल कर रहे लोग…

ट्रांसलेटर बने पी.जे कुरियन के साथ राहुल के इस वीडियो पर जरूर मजाक बन रहा है लेकिन इस वीडियो में पीछे खड़े बॉडी गार्ड्स के रिएक्शन पर भी लोग हैरान हैं. लोगों का कहना है कि इतना मजेदार वाकया हुआ, लेकिन राहुल के बॉडी गार्ड के चेहरे पर एक हंसी तक नहीं आई.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch