Sunday , April 14 2024

रामपुर में आजम खान के समर्थन में मायावती ने की रैली, बोलीं- छोटे चौकीदार भी काम नहीं आएंगे

रामपुर। बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की अध्यक्ष मायावती ने एसपी-बीएसपी गठबंधन में रामपुर लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी मोहम्मद आजम खान के लिए चुनाव प्रचार किया। यहां पर उन्होंने कांग्रेस समेत भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर जमकर हमला किया। मायावती ने इस दौरान इशारों में बीजेपी कैंडिडेट जया प्रदा पर तंज कसा। बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि रामपुर लोकसभा सीट में भी बीजेपी के कई चौकीदार घूम रहे हैं लेकिन इनके सभी चौकीदार कितनी भी ताकत क्यों न लगा लें, सत्ता में वापस आने वाले नहीं हैं।मायावती के साथ मंच पर मोहम्मद आजम खान के साथ-साथ समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव, बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा, मायावती के भतीजे आकाश आनंद भी मौजूद थे। बता दें कि बीजेपी ने रामपुर लोकसभा सीट से बॉलिवुड की चर्चित अभिनेत्री रहीं और राजनेता जया प्रदा को प्रत्याशी बनाया है।

‘आजम ऐतिहासिक जीत दर्ज करने वाले हैं’
गठबंधन के साथ ही मायावती के नारों में जय भीम, जय भारत और अब जय लोहिया भी शामिल हो गया है। रामपुर में मायावती ने कहा, ‘यहां जातिवादी, संकीर्ण, सांप्रदायिक व पूंजीवादी पार्टी अर्थात बीजेपी और आरएसएस को हमेशा मुंहतोड़ जवाब देने वाले खासकर मोहम्मद आजम खान इसबार रामपुर लोकसभा सीट से ऐतिहासिक जीत जरूर दर्ज कराने वाले हैं। चाहे बीजेपी व आरएसएस के लोग इनके विरुद्ध कितनी भी शरारतपूर्ण और घिनौने हथकंडे क्यों न इस्तेमाल कर लें, फिर भी जीत हमारे गठबंधन के इन्हीं उम्मीदवार की होगी। हमारे यहां मुरादाबाद लोकसभा सीट से एसपी के एसटी हसन और संभल की सीट से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार शफीकुर्रहमान बर्क भी चुनाव जीतेंगे।’

बीजेपी के ‘चौकीदार’ पर माया का वार
रैली में माया ने कहा, ‘इनके छोटे-बड़े चौकीदार मिलकर कितनी भी ताकत क्यों न लगा लें। मुझे पता चला है कि आपके रामपुर में भी बीजेपी के कई चौकीदार घूम रहे हैं। इनके सभी चौकीदार क्यों कितनी ही ताकत न लगा लें ये सत्ता में वापस आने वाले नहीं हैं।’

मायावती ने की जनता से अपील

पढ़ें: गठबंधन से पहले एसपी बनाम बीएसपी में ‘बवाल बयान’

‘बोफोर्स को लेकर बाहर हुई कांग्रेस, राफेल पर बीजेपी की बारी’
मायावती ने कांग्रेस और बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘1989 में करप्शन को लेकर, बोफोर्स को लेकर कांग्रेस सत्ता से बाहर हो गई थी। अब राफेल के मामले में बारी भारतीय जनता पार्टी की है। इसके अलावा केंद्र में वर्तमान की बीजेपी सरकार में देश की सीमाएं अभी तक पूरी तरह से सुरक्षित नहीं हैं।’ मायावती ने कहा, ‘केंद्र की सरकार (एनडीए) ने जिस तरह से नोटबंदी और जीएसटी को जल्दबाजी में लागू किया है, उससे गरीबी और बेरोजगारी और भी बढ़ गई है। देश की अर्थव्यवस्था पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ा है। भ्रष्टाचार भी हर स्तर पर बढ़ा है। कांग्रेसी सरकार में बोफोर्स का मामला, वर्तमान सरकार में राफेल का मामला इस बात का सबूत है।’ 

‘चुनाव में कोई नाटकबाजी नहीं आएगी काम’
बहुजन समाज पार्टी की चीफ मायावती ने कहा, ‘आजादी के बाद काफी लंबे समय तक ज्यादातर सत्ता कांग्रेस पार्टी, बीजेपी और अन्य पार्टियों के हाथों में केंद्रित रही है। यहां खास बात यह है कि लंबे अर्से तक शासन के बावजूद फिर कांग्रेस को केंद्र और कई अन्य राज्यों की सत्ता से भी बाहर होना पड़ा है।’

पढ़ें: बंगाल में मोदी, वोट बैंक के लिए विदेशियों से प्रचार

उन्होंने कहा कि वर्तमान में देश में लोकसभा के लिए हो रहे आम चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) भी केंद्र में रही खासकर आरएसएसवादी, पूंजीवादी, संकीर्ण, सांप्रदायिक और जातिवादी गलत नीतियों और गलत कार्य प्रणाली की वजह से इस बार जरूर सत्ता से बाहर चली जाएगी। चुनाव में इनकी कोई भी नाटकबाजी और जुमलेबाजी काम आने वाली नहीं है। इनकी चौकीदारी वाली नई नाटकबाजी भी इन्हें नहीं बचा पाएगी, जिसे अब ये लोग इस चुनाव में जबरदस्ती आमजनों से जोड़कर अपने राजनीतिक लाभ के लिए भुनाने में लगे हैं, जिसमें इन्हें किसी कीमत पर कामयाबी मिलने वाली नहीं है। इन सबके इतर आपको बता दें कि रामपुर लोकसभा सीट पर 23 अप्रैल को मतदान होने हैं।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch