Sunday , August 18 2019

भाजपा विरोधी मोर्चे की कवायद तेज, दो दिन में दूसरी बार राहुल-पवार से मिले चंद्रबाबू

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले ही आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और तेदेपा प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू ने भाजपा विरोधी मोर्चा बनाने की कवायद तेज कर दी। उन्होंने रविवार को लगातार दूसरे दिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और राकांपा प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की। नायडू शनिवार को दिल्ली में राहुल और पवार के अलावा अरविंद केजरीवाल, भाकपा नेताओं सुधाकर रेड्डी और डी राजा से मिले थे। इसके बाद शाम को लखनऊ पहुंचकर उन्होंने मायावती और अखिलेश यादव से भी मुलाकात की थी।

चंद्रबाबू कुछ महीने पहले तक एनडीए का ही हिस्सा थे। लेकिन आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा न मिलने से नाराज होकर उन्होंने वह खेमा छोड़ दिया। अब वे भाजपा के खिलाफ सभी विरोधी पार्टियों को एक पटरी पर लाने की कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए उन्होंने तृणमूल पार्टी प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी से भी सम्पर्क किया।

‘सरकार बनाने के लिए तैयार रहना चाहिए’
राजनीतिक सूत्रों की मानें तो शनिवार को चंद्रबाबू ने राहुल गांधी से कहा है कि हमें चुनाव नतीजों के लिए रणनीतिक तौर पर तैयार रहना चाहिए। अगर भाजपा बहुमत से चूकती हैं, तो हमें सरकार बनाने के लिए मजबूत दावा पेश करने की तैयारी पहले ही कर लेनी चाहिए।

सोनिया ने 23 मई को बुलाई गैर-एनडीए दलों की बैठक
यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने 23 मई को गैर-एनडीए दलों को बैठक के लिए बुलाया है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस का मानना है कि भाजपा को इस बार बहुमत नहीं मिलेगा। इसी के मद्देनजर यूपीए प्रमुख ने सेक्युलर पार्टियों के नेताओं को निमंत्रण भेजा है। इनमें शरद पवार, द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन, राजद और टीएमसी के नेता शामिल हैं। इसके लिए कांग्रेस ने चार नेताओं की टीम बनाई है, जिसमें अहमद पटेल, पी.चिदंबरम, गुलाम नबी आजाद और अशोक गहलोत हैं।

2014 लोकसभा चुनाव में किस पार्टी को कितनी सीटें मिली

पार्टी सीट
भाजपा 282
कांग्रेस 44
तृणमूल कांग्रेस 34
बीजू जनता दल 20
तेलुगु देशम पार्टी 16
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी 6
समाजवादी पार्टी 5
आम आदमी पार्टी 4
बहुजन समाज पार्टी 0

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *