Sunday , April 14 2024

वर्ल्ड चैम्पियन बनते ही इंग्लैंड टीम के महानतम कप्तान बन गए मोर्गन

23 साल के लंबे इंतजार के बाद जब बारी क्रिकेट जगत के नए वर्ल्ड चैंपियन की आई तो राह आसान नहीं रही. बेहद कांटेदार मुकाबले में मैच की आखिरी गेंद पर जब मुकाबला टाई हो गया तो फैसला सुपर ओवर से हुआ जिसमें आखिरी गेंद पर मेजबान टीम ने बाजी मारते हुए पहली बार वर्ल्ड कप पर कब्जा जमा लिया.

वेस्टइंडीज, भारत, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान और श्रीलंका के बाद इंग्लैंड के रूप में छठा नया वर्ल्ड चैम्पियन मिल गया है. इंग्लैंड की टीम को वर्ल्ड चैम्पियन बनाने में पिछले संस्करणों के कप्तानों ने भी खासी मेहनत की थी, लेकिन खिताबी जीत का सेहरा उनके सिर नहीं बंध सका. अब कप्तान इयोन मोर्गन ने 44 साल के सूखे को खत्म कर अपनी टीम को वर्ल्ड चैम्पियन बना दिया.

ऐतिहासिक लॉर्ड्स के मैदान पर खिताबी जीत के लिए मेजबान इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच मुकाबला खेला गया. बेहद रोमांचक मुकाबले में पहले स्कोर टाई हुआ फिर सुपर ओवर टाई हो गया और इसके साथ ही टीम ने जीत हासिल करते हुए वर्ल्ड चैम्पियन का रुतबा हासिल कर लिया. इंग्लैंड ने अब तक जहां अपना चौथा फाइनल मैच खेला तो वहीं न्यूजीलैंड की टीम का यह दूसरा फाइनल मैच रहा. 2015 के वर्ल्ड कप मे किवी टीम उपविजेता रही.

जिस साल सेमीफाइनल और फाइनल में पहुंची इंग्लैंड टीम

साल कप्तान क्या हुआ
 1975 माइक डेनेंस सेमीफाइनल में हार
 1979 माइक ब्रेयरले उपविजेता
 1983 बॉब विलिस सेमीफाइनल में हार
 1987 माइक गेटिंग उपविजेता
 1992 ग्राहम गूच उपविजेता
 2019 इयोन मोर्गन विजेता

बात इंग्लैंड टीम की करें तो उसका यह चौथा और अपने घर में दूसरा फाइनल मैच था. वर्ल्ड कप के 12 संस्करणों में इंग्लिश टीम 6 बार सेमीफाइनल तक पहुंचने में कामयाब रही जिसमें महज 2 में हार मिली और 4 बार जीत के साथ फाइनल में पहुंच गई. और अब 2019 में वह वर्ल्ड चैम्पियन बन गई.

जिस साल सेमीफाइनल और फाइनल में पहुंची न्यूजीलैंड टीम

साल कप्तान क्या हुआ
 1975 ग्लेन टर्नर सेमीफाइनल में हार
 1979 मार्क बर्गेस सेमीफाइनल में हार
 1992 मार्टिन क्रो सेमीफाइनल में हार
 1999 स्टीफन फ्लेमिंग सेमीफाइनल में हार
 2007 स्टीफन फ्लेमिंग सेमीफाइनल में हार
 2011 डेनिएल विटोरी सेमीफाइनल में हार
 2015 ब्रेंडम मैकुलम उपविजेता
 2019 केन विलियमसन उपविजेता

इंग्लैंड की टीम 1979 के वर्ल्ड कप में फाइनल में पहुंची थी, लेकिन माइक ब्रेयरले की अगुवाई वाली यह टीम वेस्टइंडीज के हाथों हार गई और वर्ल्ड चैंपियन बनने का सपना टूट गया. इसके बाद 1987 में माइक गेटिंग की अगुवाई में भी टीम फाइनल में पहुंची, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार मिली. इसके साथ ही वेस्टइंडीज और भारत के बाद तीसरी वर्ल्ड चैम्पियन टीम बनने का चांस  कंगारुओं के हाथों गंवा दिया.

1992 में भी यह टीम लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंची, लेकिन वहां भी खिताबी जीत नसीब नहीं हुई. महान बल्लेबाज ग्राहम गूच की अगुवाई में इमरान खान की पाकिस्तान टीम के हाथों हार गई.

1992 के बाद 27 साल तक इंग्लैंड सेमीफाइनल में पहुंचने को संघर्ष करता रहा, लेकिन उसे कामयाबी नहीं मिली और अब उसे कामयाबी मिली तो वर्ल्ड चैम्पियन टीम बनकर. माइक ब्रेयरले, माइक गेटिंग और ग्राहम गूच जैसे बड़े कप्तान जो नहीं कर सके उसे इयोन मोर्गन ने कर दिखाया.

वहीं न्यूजीलैंड की टीम 8 बार सेमीफाइनल में पहुंची, लेकिन ब्रेंडन मैकुलम की अगुवाई में किवी टीम 2015 में वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची, लेकिन उसे तब हार मिली. अब 2019 में केन विलियमसन की अगुवाई में लगातार दूसरी बार न्यूजीलैंड की टीम खिताबी जंग में पहुंची जहां उसकी इंग्लैंड की टीम के साथ कांटे की टक्कर रही, लेकिन उसे हार मिली.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch