Saturday , April 20 2024

बीसीसीआई ने लिया बड़ा फैसला, कोच पद पर रहने के लिये रवि शास्त्री को करना होगा ये काम

आईसीसी विश्वकप जीतने में नाकामयाब रही भारतीय टीम के नये कोच की खोज जल्द ही शुरु होने वाली है, इसके लिये बीसीसीआई ने आवेदन मंगाने का फैसला लिया है, अब टीम के मौजूदा कोच रवि शास्त्री को भी इस पद पर बने रहने के लिये फिर से आवेदन करना होगा, मालूम हो कि शास्त्री की कांट्रेक्ट वेस्टइंडीज दौरे तक का ही है, कोच और सपोर्टिंग स्टाफ का कांट्रेक्ट 45 दिनों के लिये बढा दिया गया है।

इन पदों के लिये आवेदन
टीम इंडिया ने रवि शास्त्री के मुख्य कोच रहते कोई बड़ा आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीता, लेकिन टीम ने इस साल के शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज जीतकर इतिहास रचा था, बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया कि हमारी वेबसाइट पर अगले एक-दो दिनो में इन पदों के लिये आवेदन की जानकारी दी जाएगी, टीम के मैनेजर पद के लिये भी नये आवेदन मंगाये जाएंगे, तमिलनाडु के पूर्व कप्तान सुनील सुब्रमण्यम को 2017 में एक साल के कांट्रेक्ट पर मैनेजर नियुक्त किया गया था, फिर बाद में उनका कार्यकाल बढा दिया गया।

सपोर्टिग स्टाफ भी बदल सकते हैं
कहा जा रहा है कि सिर्फ मुख्य कोच ही नहीं बल्कि बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ की भी छुट्टी होनी तय है, वैसे भी टीम बल्लेबाजी में उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर सकी है, जबकि गेंदबाजी और फिल्डिंग में प्रदर्शन अच्छा रहा है, इसलिये बल्लेबाजी कोच बदलने की बात चल रही है।

नया ट्रेनर और फिजियो
मालूम हो कि भारतीय टीम के साथ नये ट्रेनर और फिजियो का भी जुड़ना तय है, विश्वकप के बाद ट्रेनर शंकर बासु और फिजियो पैट्रिक फरहार्ट ने ये पद छोड़ दिया है, इन दोनों का भारतीय टीम की कामयाबी में अच्छा योगदान रहा है, खासकर शंकर बासु ने विराट कोहली, पंड्या और बुमराह जैसे खिलाड़ियों की फिटनेस पर खूब काम किया, तो फिजियो पैट्रिक के भारतीय खिलाड़ियों को इंजरी फ्री रखने में बड़ी भूमिका निभाई।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch