Sunday , May 26 2024

बड़ा खुलासा: इटावा एनकाउंटर में मारे गए बव्वन ने कानपुर कांड में बेरहमी से काट दिए थे DSP के पैर

मैनपुरी। कानपुर कांड (Kanpur Shootout) के आरोपी और गैंगस्टर विकास दुबे के साथी प्रवीण उर्फ बव्वन दुबे (Bavvan Dubey) को इटावा एनकाउंटर में मार गिराया गया है. पुलिस ने उसके पास से एक बंदूक भी बरामद की है. पता चला है कि कानपुर की घटना में इस बंदूक का इस्तेमाल किया गया. पुलिस पर इससे भी गोलियां दागी गईं. यही नहीं पुलिस सूत्रों के अनुसार प्रवीण दुबे वही अपराधी था, जिसने घटना के दौरान डिप्टी एसपी देवेंद्र मिश्रा के पैर बेरहमी से काट दिए थे.

दरअसल गुरुवार को यूपी एसटीएफ ने विकास दुबे के 2 और करीबी साथियों को मार गिराया. कानपुर (Kanpur) में एसटीएफ दरोगा की पिस्टल छीनकर भागे प्रभात मिश्रा (Prabhat Mishra) उर्फ़ कार्तिकेय को पुलिस ने ढेर किया तो उधर इटावा (Etawah) में पुलिस ने उसके तीसरे साथ प्रवीण उर्फ़ बव्वन दुबे (Bavvan Dubey) को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया. बव्वन पर 50 हजार का इनाम घोषित था और उसके खिलाफ विकरू गांव में पुलिस टीम पर हुए हमले में शामिल होने के आरोप में चौबेपुर थाने में केस भी दर्ज था.

कार लूटकर हो रहा था फरार

एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि आज सुबह तड़के 3 बजे महेवा थाना क्षेत्र के हाईवे पर बकेवर के पास एक स्विफ्ट डिजायर कार DL-1Z-A3602 को स्कॉर्पियो सवार चार असलहाधारी बदमाशों ने लूट लिया. इसके बाद करीब साढ़े 4:30 बजे पुलिस ने उन्हें सिविल लाइन्स थाना क्षेत्र के कचौरा रोड पर पुलिस ने उन्हें घेरा. इसके बाद पुलिस ने कार पीछा किया. जिसके बाद कार पेड़ से टकरा गई और अपराधियों ने फायरिंग शुरू कर दी.
तीन साथी फरार, तलाश जारी
पुलिस की तरफ से जवाबी फायरिंग में एक बदमाश को कई गोलियां लगी. उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. उसकी पहचान प्रवीण दुबे उर्फ़ बव्वन दुबे के रूप में हुई है. हालांकि उसके तीन साथी भागने में कामयाब रहे. उनकी तलाश के लिए नाकेबंदी की गई है. मृत बदमाश के पास से एक पिस्टल, एक डबल बैरल बंदूक और भारी मात्रा में कारतूस बरामद की गई है. उधर पता चला कि इस बंदूक का कानपुर कांड में इस्तेमाल किया गया था.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch