Sunday , May 26 2024

सुशांत केस- एक्टर ने रिया चक्रवर्ती और संदीप सिंह पर उठाये सवाल

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के निधन को अब महीना पूरा होने को है, इस एक महीने में पुलिस ने तीस से ज्यादा लोगों से पूछताछ की है, लेकिन सुशांत के इस फैसले तक पहुंचने के किसी ठोस कारण तक पुलिस अभी तक नहीं पहुंच पाई है, यही वजह है कि सुशांत के फैंस और कुछ दूसरे लोग इस केस में सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं, शेखर सुमन, कंगना रनौत से लेकर रुपा गांगुली तथा रतन राजपूत जैसे सितारों के बाद अब टीवी एक्टर तरुण खन्ना ने भी सुशांत की मौत को लेकर सीबीआई जांच की मांग की है, हाल ही में तरुण ने एक वीडियो के जरिये सुशांत के उन दोस्तों पर गुस्सा जाहिर किया है, जो उनके बेहद करीब थी।

दोस्तों पर उठाये सवाल

कई टीवी शो में काम कर चुके तरुण खन्ना ने हाल ही में अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर एक वीडियो पोस्ट किया है, जिसमें सुशांत के निधन के बाद बॉलीवुड सेलेब्स द्वारा सीबीआई जांच की मांग नहीं उठाये जाने पर गुस्सा जाहिर किया है, साथ ही तरुण ने संदीप सिंह और रिया चक्रवर्ती पर भी सवाल खड़े किये हैं।

मौत के कारण पुख्ता नहीं लगते

इस वीडियो में तरुण कह रहे हैं कि मेरा नाम तरुण खन्ना है, आपमें से जो मुझे जानते हैं, वो जानते होंगे, और जो नहीं जानते हैं, मैं उन्हें बता दूं कि मैं भी टीवी में छोटा-मोटा एक्टर हूं, काफी साल से काम कर रहा हूं, आज मैं जिस बारे में बात करने जा रहा हूं, Sushant Father3वो हैं सुशांत सिंह राजपूत, मैंने अपनी जिंदगी में आजतक कभी भी अपने काम के अलावा या अपने दोस्तों और परिवार के अलावा किसी के बारे में बात नहीं की, लेकिन सुशांत मामले में मुझसे रहा नहीं जा रहा है, जिस दिन से सुशांत की मौत हुई है, ये बात मुझे रह-रह कर काट रही है, कि मैं चुप क्यों हूं, जहां कहीं भी मैं अपने दोस्तों के साथ बैठता हूं और पर्सनल बातें होती है, मैं सभी को बताना चाहता हूं कि चीजें जोड़ी जा रही है, ये चीजें कुछ पुख्ता सी नहीं लग रही है।

किस बात का था डिप्रेशन

तरुण ने आगे कहा कि सुसाइड करने की एक परिस्थिति होती है, कहा जा रहा है कि सुशांत डिप्रेशन में थे, मैं बस यही जानना चाहता हूं कि किस बात का डिप्रेशन था उन्हें, उन्होने पवित्र रिश्ता जैसा सीरियल दिया, जो कई साल तक भारत का नंबर वन टीवी शो था, क्या उन्हें काई पो छे जैसी फिल्म का डिप्रेशन था, धोनी की बायोपिक में उन्होने काम किया, इस बात का डिप्रेशन था, उनकी आखिरी फिल्म छिछोरे ने रिकॉर्ड तोड़ 150 करोड़ का बिजनेस किया, इस बात का डिप्रेशन था, मुंबई में सबसे बड़े कास्टिंग डायरेक्टर्स में से एक हैं मुकेश छाबड़ा, जब वो फिल्म बनाते हैं, तो सुशांत को बतौर हीरो लेते हैं, मुकेश ने हुमा कुरैशी, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, सुशांत, अमित साध, राजकुमार राव के अलावा कई सितारों को लाइमलाइट में लाने में मदद की है, जिस आदमी से तारीफ पाने के लिये कई एक्टर मरे जा रहे हैं, वो खुद सुशांत को बतौर हीरो अपनी फिल्म में लेता है, अब जिस इंसान की जिंदगी में ऐसा हो रहा हो, वो कैसे सुसाइड कर सकता है।

पैसों की नहीं थी कमी
टीवी एक्टर ने आगे कहा कि सुशांत की बैंक डिटेल्स से भी पता चला है कि वो करोड़ों रुपये का डोनेशन कर रहे थे, पैसों की कमी नहीं थी, अब इतने प्रतिभाशाली एक्टर होने के सबाद उस इंसान को काम का डिप्रेशन तो नहीं हो सकता, हम जैसे लोगों से पूछिये, 15-15 साल हो गये टीवी में काम करते हुए, नाकों चने चबाने पड़ते हैं, तब जाकर खाने को रोटी मिलती है, इतना हमसे काम करवाया जाता है और थोड़े से पैसे मिलते हैं, सुशांत हम लोगों के लिये आशा की किरण था, हम सभी को लगता था कि भाई ने वो काम किया है जो हम सब करना चाहते थे, हम लोगों के लिये हीरो था, अब हमारे हीरो को मार दिया गया है, या मर गया है, हमें ये जानने का हक है ना साहब, इतना भी नहीं कर सकते हम।

दोस्त आगे क्यों नहीं आए
तरुण ने बताया कि वो सुशांत से जिम में दो-तीन बार मिले थे, हाय-हैलो हुई थी, भले ही सुशांत को करीब से नहीं जानते थे, लेकिन जो सुशांत के दोस्त थे संदीप सिंह, sushant ankita sandeepउन्होने कैसे खुद ही क्लीन चिट दे दी है, संदीप ने इंटरव्यू में कहा उसने पहली ही लाइन में ऐसा बोलना शुरु किया, कि किसने बोला है कि सुशांत को किसी ने मारा है, आप लोग ही अपने आप से बोले जा रहे हैं, उसने एकदम से सबको क्लीन चिट दे दी, सुशांत की जो कथित प्रेमिका है रिया चक्रवर्ती, क्या वो लोगों के सामने आकर बोल नहीं सकती, भाई इतना ही बोल दो, कि पुलिस ने बोलने से मना किया है, तो भी लोग चुप हो जाएंगे एक बार।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch