Tuesday , May 28 2024

देह व्यापार रैकेट की मास्टरमाइंड सोनू पंजाबन ने की आत्महत्या की कोशिश

नई दिल्ली। नाबालिगों का अपहरण कर उनसे वेष्यावृत्ति कराने के मामले में दिल्ली की द्वारका कोर्ट द्वारा दोषी करार दी गई सोनू पंजाबन फिलहाल दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में भर्ती हैं। आरोप है कि तिहाड़ जेल में बंद सोनू पंजाबन ने किसी दवा का ज्यादा सेवन कर लिया था, जिससे उसकी हालत खराब हो गई। इसके बाद एहतियात बरतते हुए तिहाड़ जेल प्रशासन ने सोनू पंजाबन को डीडीयू अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां इलाज के दौरान उसकी हालत ठीक है।

गौरतलब है कि दिल्ली की कोर्ट ने पिछले दिनों गीता अरोड़ा उर्फ सोनू पंजाबन और उसके साथी संदीप को नाबालिगों से  वेष्यावृित्त कराने में दोषी करार दिया है। अगली सुनवाई में सोनू पंजाबन की सजा का एलान किया जाएगा।

पूछताछ में पता चला था कि नजफगढ़ की किशोरी को दिल्ली, उत्तर प्रदेश (यूपी) और हरियाणा में अलग-अलग जगहों पर बेचा गया था। वहां उसके साथ अलग-अलग लोगों ने दुष्कर्म किया था। इसी दौरान पीड़िता उनके चंगुल से निकल कर घर पहुंची थी। इस दौरान किशोरी अवसाद में थी और आरोपितों से उसे जान का खतरा था। काफी प्रयास के बाद पुलिस ने सोनू को दिल्ली के उसके एक ठिकाने से दबोचा था। छानबीन में पता चला था कि वह दिल्ली, यूपी और पंजाब के कई मानव तस्करों के संपर्क में है। बता दें कि सोनू पंजाबन ने देशभर में देह व्यापार का धंधा फैलाया और इस दौरान करोड़ों की संपत्ति बनाई।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch