Monday , May 27 2024

गोंडा किडनैप फिरौती ऑडियो : हैलो कानपुर वाला विकास दुबे मैटर जानते हो न.. पुलिस किसका कितना साथ देती है..?

गोंडा। यूपी के गोंडा से शुक्रवार को अपह्रत किए गए पांच साल के नमो गुप्ता को पुलिस ने खोज निकाला। पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में दो अपहरणकर्ता घायल हुए हैं। सीओ के मुताबिक शनिवार सुबह भौरीगंज रोड पर अपहरणकर्ताओं की लोकेशन सर्विलांस से मिली। एसटीएफ और पुलिस टीम ने पीछा किया तो कार एक खम्भे से टकरा गई। दो अपहरणकर्ता गाड़ी से भागने लगे। दोनों ने पुलिस टीम पर फायर किया। जवाब में पुलिस ने दो बदमाशों को जवाबी फायरिंग में दबोच लिया। पुलिस के अनुसार गाड़ी से अपह्रत बच्चे के साथ एक महिला और पुरुष को हिरासत में ले लिया गया है।

अपहरणकर्ताओं ने फोन करके परिवार वालों से चार करोड़ की फिरौती मांगी थी। फिरौती के लिए अपहरणकर्ता में शामिल महिला की पिता के पास दोपहर बाद काल आई। काल करने वाली महिला ने नमो के पिता हरि गुप्ता से कुछ इस अंदाज में बात की।

सुनिए आडियो.. कैसे धमकी दे रही थी अपहरणकर्ताओं में शामिल महिला।

अपहरणकर्ता महिला :  हैलो,

 नमो गुप्ता के परिजन :  हैलो

अपहरणकर्ता महिला : आवाज न आ रही हो तो बताओ, आवाज न आ रही हो तो बताओ, आपका लड़का किडनैप हो चुका है।

 नमो गुप्ता के परिजन : अच्छा, तो क्या करना पड़ेगा।

अपहरणकर्ता महिला :  चार करोड़ की व्यवस्था करो, हम शाम तक फोन करेगें। ज्यादा दिमाग लगाने की कोशिश न करना। जो करोगो हमको सब पता चल जायेगा, ज्यादा दिमाग लगाने की कोशिश करोगे तो हमे पता चल जायेगा। अभी तक सब ठीक है वर्ना कानपुर वाला मैटर तो जानते हो न..?

 नमो गुप्ता के परिजन : कौन कानपुर वाला..

अपहरणकर्ता महिला :  विकास दूबे वाला, जानते ही हो पुलिस किसका कितना साथ देती है। पुलिस के पास जाना चाहो तो जाओ हमें कुछ नहीं है, मै मना नहीं कर रही है.. बस आपका लड़का आपको नही मिलेगा।

 नमो गुप्ता के परिजन : हमे हमारा लड़का चाहिए बस,

अपहरणकर्ता महिला :  तो आपको अपना लड़का चाहिए.? दो तीन घंटे बाद मै फोन करूगी.. बस हां या न में जवाब चाहिए… और अगर आपने कुछ भी कदम उठाने की कोशिश की तो लड़के की उम्मीद छोड़ दीजिए..

 नमो गुप्ता के परिजन : जी जी… नहीं हम कोई कदम नहीं उठाएंगे

अपहरणकर्ता महिला :  जी ठीक है।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch