Monday , September 28 2020

सुशांत सिंह मामले में नया मोड़, पिता ने गर्लफ्रेंड रिया पर आत्महत्या के लिए उकसाने का दर्ज कराया केस

पटना। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड मामले में नया मोड़ आ गया है। मुंबई पुलिस की जांच से नाखुश पिता केके सिंह ने राजीव नगर थाने में सुशांत को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस सूत्रों की मानें तो आरोप सुशांत की कथित गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती सहित दो अन्य पर लगाया गया है। पुलिस ने रिया के खिलाफ आइपीसी की धारा 341, 342, 380, 406, 420, 306, 506 और 120 बी के तहत एफआइआर नंबर 241/20 दर्ज किया है।

मुंबई पहुंची बिहार पुलिस के चार जवान

एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि रविवार को प्राथमिकी दर्ज की गई है। राजीव नगर के थानेदार निशांत केस के अनुसंधानकर्ता हैं। प्राथमिकी दर्ज करने के बाद निशांत सहित चार सदस्यीय टीम को मुंबई भेजा गया है। टीम मुंबई पहुंच गई है और वहां की पुलिस से संपर्क में है।

पटना पुलिस ने मंगलवार को मुंबई पहुंचकर वहां के एक बड़े अधिकारी से संपर्क किया है। काफी देर बातचीत के बाद सुशांत के केस डायरी की कापी उपलब्ध कराने का आग्रह भी किया है। पुलिस के अनुसार रिया चक्रवर्ती पर गंभीर आरोप लगाया गया है। सूत्रों की मानें तो आरोप है कि रिया ने सुशांत को अपने परिवार से अलग कर रखा था। बताया जा रहा है कि उनके बैंक अकाउंट को भी वही मैनेज करती थी। रिया पर सुशांत के रुपयों के गबन का भी आरोप लगाया गया है। पटना पुलिस रिया चक्रवर्ती और दो अन्य लोगों से पूछताछ के अलावा जो भी आरोप लगाए गए हैं, उन सभी बिंदुओं पर छानबीन करेगी। सुशांत के बैंक अकाउंट से लेकर बिजनेस के पहलुओं को भी पुलिस ने खंगालना शुरू कर दिया है।

मुंबई पहुंची टीम में राजीव नगर के थानेदार निशांत सिंह को इस केस का आइओ (इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर) बनाया गया है। इनके साथ इंस्पेक्टर मो. कैसर आलम, मनोरंजन भारती और एक अन्य इंस्पेक्टर टीम में शामिल हैं। पटना पुलिस मुंबई पुलिस ने अब तक जिनसे पूछताछ की है उनके बारे के भी जानकारी जुटा रही है। गौरतलब हो कि पटना के राजीव नगर के रहने वाले बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई में आत्महत्या कर ली थी। घटना के बाद से ही सीबीआइ जांच की मांग की जा ही थी।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति