Sunday , September 27 2020

पूर्व सपा नेता शाहजेब रिजवी पर मेरठ पुलिस ने दर्ज किया FIR: कर्नाटक कॉन्ग्रेस MLA के भतीजे के सर पर रखा था ₹51 लाख का इनाम

मेरठ। कर्नाटक कॉन्ग्रेस विधायक के भतीजे नवीन के सर कलम करनें पर 51 लाख रूपए का ईनाम देनें का ऐलान करनें वाले पूर्व सपा नेता शाहजेब रिजवी (Shahzeb Rizvi) पर यूपी के मेरठ में एफआईआर दर्ज हो गई है। रिजवी ने मुस्लिम समुदाय के लोगों को इनाम के लिए पैसे इक्कठा करने के लिए भी कहा था।

खबरों के मुताबिक, सपा नेता का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने की के बाद, मेरठ एसएसपी अजय साहनी ने वीडियो का संज्ञान लेते हुए मामले की जाँच के आदेश दिए थे।

जिला पंचायत चुनाव लड़ चुके पूर्व सपा नेता शाहजेब रिजवी के खिलाफ 13 अगस्त की देर रात को मेरठ पुलिस द्वारा फलावदा पुलिस स्टेशन में IPC की धारा 153A, 505(2) के तहत केस दर्ज हुआ है, आरोपी रिजवी के घर पर पुलिस ने दबिश दी, लेकिन वो फरार मिला।

मेरठ (ग्रामीण) के एसपी अविनाश पांडे ने कहा, “यहाँ के एक शख्स ने बेंगलुरु हिंसा के सिलसिले में 51 लाख रुपए का ईनाम घोषित किया है। उनके खिलाफ सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश के तहत मामला दर्ज किया गया है और कड़ी कार्रवाई की जाएगी।”

मुस्लिम नेता शाहजेब रिजवी का विवादित बयान

गौरतलब है कि मुस्लिम नेता शाहजेब रिजवी ने गुरुवार को एक विवादित वीडियो पोस्ट करते हुए कहा था कि, “फेसबुक पोस्ट के माध्यम से उसनें हुजूर के शान में जो गुस्ताखी की है, मैं उसकी कड़ी शब्दों में निंदा करता हूँ, रिजवी ने ऐलान किया की इस युवक जो सर कलम करके लाएगा उसे मैं 51 लाख का नगद ईनाम दूँगा। रिजवी ने मुस्लिमों से अपील की है कि सब मिलकर 51 लाख रुपए जमा करो।”

शाहजेब रिजवी उत्तरप्रदेश के मेरठ में फलावदा थाना क्षेत्र के रसूलपुर गाँव के रहने वाला हैं। वह पहले समाजवादी पार्टी का अल्पसंख्यक सभा के प्रदेश सचिव रह चुका है। लेकिन इस वक्त वह सपा में सक्रिय नहीं हैं। पिछली बार जिला पंचायत के चुनाव में वह हार गया था। वर्तमान में वह अपने आप को सामाजिक कार्यकर्ता बताता है।

बेंगलुरु दंगा

कॉन्ग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के भतीजे नवीन के फेसबुक पोस्ट को लेकर सारा विवाद शुरू हुआ था। उस पर पैगम्बर मुहम्मद को लेकर विवादित पोस्ट डालने का आरोप है। जिसकी वजह से मंगलवार शाम को मुस्लिम समुदाय के लोग हिंसा पर उतर आए।

बेंगलुरु दंगों में शामिल अब तक हिंसा करने वालों में से 150 को गिरफ्तार किया गया है। बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर कमल पंत ने लोगों को शांति बनाए रखने की अपील की है। इस घटना में 3 लोग मारे गए और 60 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इसके साथ ही दंगाइयों ने 250 के करीब गाड़ियों को आग लगा दी और करोड़ों की संपत्ति को नुकसान पहुँचाया है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति