Saturday , October 24 2020

एक लड़की की जिद के आगे बेबस हो गया रेलवे तंत्र, इकलौती सवारी के लिए दौड़ी राजधानी एक्सप्रेस

भारतीय रेलवे देश में यातायात का सबसे बड़ा तंत्र है । अकसर रेलवे को लेकर कई तरह की शिकायतें सामने आती रहती हैं, लेकिन इस बार जो हुआ वो एकदम अनोखा रहा । शायद भारतीय रेलवे के इतिहास में ये पहला मौका हो जब एक युवती की जिद पर ट्रेन को खाली दौड़ाना पड़ा हो । जी हां, ठीक पढ़ा आपने इकलौती सवारी के लिए राजधानी एक्सप्रेस चलाई गई और लड़की की जिद के आगे किसी की भी नहीं चली ।

लड़की ने दिया वाजिब तर्क

अनन्‍या नाम की यह लड़की 535 किलोमीटर का सफर तय कर रात एक बजकर 45 मिनट पर रांची पहुंची थी । लड़की को लाख समझाया गया लेकिन वो नहीं मानी । उसकी रट थी कि जाऊंगी तो राजधानी एक्सप्रेस से ही । यदि बस से जाना होता तो ट्रेन का टिकट क्यों लेती । बस से सफर कर रांची आती । टिकट राजधानी एक्सप्रेस का है तो इसी से जाऊंगी । दरअसल भगतों के आंदोलन के चलते डालटनगंज स्टेशन पर फंसी राजधानी एक्सप्रेस में सवार अनन्या ने जब यह जिद पकड़ ली तो रेलवे अधिकारी भी परेशान हो गए।

जिद के आगे झुके अधिकारी

लड़की की जिद के आगे अधिकारियों को भी समझ नहीं आया कि क्या करें । आखिरकार उन्‍हें लउ़की की जिद के आगे उन्हें झुकना पड़ा । राजधानी एक्सप्रेस को शाम करीब चार बजे डालटनगंज से वापस गया ले जाया गया वहां से वो गोमो और बोकारो होते हुए रांची के लिए रवाना की गई । अनन्या देर रात करीब 1.45 बजे ट्रेन रांची रेलवे स्टेशन पपर हुंची । इस ट्रेन में अनन्या इकलौती सवारी थी । बाकी 930 यात्रियों में से 929 को रेलवे प्रशासन ने डालटनगंज से बसों के द्वारा गंतव्य की ओर पहले ही रवाना कर दिया था ।

पहली बार हुई ऐसी घटना

इस खबर के मीडिया में आने के बाद इसकी चर्चा हो रही है । रेलवे के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जब सिर्फ एक सवारी को छोड़ने के लिए राजधानी एक्सप्रेस जैसी महंगी ट्रेन ने 535 किलोमीटर की दूरी तय की हो । अनन्‍या की जिद के आगे प्रशासन झुक गया, ये भी बड़े कमाल की बात है । आज तक ऐसी कोई घटना हुई हो, इसका पता फिलहाल तो नहीं चल पाया है ।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति