Saturday , September 18 2021

PM मोदी को बदनाम करने के लिए TMC उपाध्यक्ष यशवंत सिन्हा ने शेयर की एडिटेड तस्वीर, सोशल मीडिया पर लोगों ने लिया आड़े-हाथ

इस साल मार्च में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कॉन्ग्रेस (टीएमसी) में शामिल हुए भाजपा के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा ने सोशल मीडिया पर अपनी निम्न मानसिकता का परिचय दिया है। उन्होंने केंद्रीय मंत्री व पूर्व खेल मंत्री किरेन रिजूजी द्वारा टोक्यो ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाली मीराबाई चानू को सम्मानित करने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान लगाए गए पोस्टर को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधा है। दरअसल, यशवंत सिन्हा ने वेटलिफ्टर मीराबाई चानू के पीछे लगाए गए पोस्टर की फोटो अपने ट्विटर अकाउंट पर साझा की है। इस पोस्टर में चानू को भारत के लिए पदक दिलाने में मदद करने के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद दिया गया है।

मोदी विरोधी सिन्हा ने प्रधानमंत्री को बदनाम करने के लिए पोस्टर पर पीएम को धन्यवाद देने वाली लाइन पर ही फोकस किया है। उन्होंने फोटो के साथ लिखा, “कृपया पीछे की फोटो देखिए और जो लिखा है उसे एक बार पढ़िए। मेडल मीराबाई चानू मेहनत करके लाई हैं या मोदी जी ने।” साथ ही उन्होंने कैप्शन में लिखा, ”अगर किसी को ओलंपिक पर मेरे आखिरी ट्वीट पर कोई आपत्ति है तो इस तस्वीर की पृष्ठभूमि में क्या लिखा है कृपया उसे देखें।” सिन्हा ने इस ट्वीट में जिस ‘आखिरी ट्वीट’ का जिक्र किया, उसका मकसद भी प्रधानमंत्री का मजाक उड़ाना था।

फैक्ट चे​क

प्रेस सूचना ब्यूरो (पीआईबी) ने 27 जुलाई को वास्तविक तस्वीर शेयर की गई थी, जहाँ यह स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा है कि पोस्टर पर ‘धन्यवाद मोदी जी’ वाली लाइन नहीं हैं।


Source: PIB

पीआईबी ने इवेंट का एक वीडियो भी शेयर किया था, जिसमें पोस्टर साफ नजर आ रहा है।

दिलचस्प बात यह है कि 26 जुलाई को कार्यक्रम होने के बाद इंडिया टुडे ने भी इस खबर को कवर किया था। इस मीडिया हाउस ने भी टोक्यो ओलंपिक के लिए मीराबाई चानू को सम्मानित करते हुए वास्तविक पोस्टर का फोटो के रूप में इस्तेमाल किया था।


इंडिया टुडे की रिपोर्ट में यही तस्वीर है

इंडिया टुडे द्वारा 26 जुलाई को प्रकाशित रिपोर्ट की तस्वीरों को गौर से देखा जाए तो बैकग्राउंड पोस्टर पर ‘धन्यवाद मोदी जी’ का कोई संदेश नहीं दिख रहा है। इससे स्पष्ट है कि यह टीएमसी नेता की पीएम मोदी के लिए नफरत ही है, जो उन्हें बदनाम करने के लिए मॉर्फ्ड फोटो (morphed photo) का इस्तेमाल किया गया।

उसी संपादित फोटो को राष्ट्रीय लोक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी ने भी साझा किया था। उन्होंने लिखा, ”पदक विजेता का अभिनंदन तो ठीक है, लेकिन ‘धन्यवाद मोदी जी मेडल दिलाने के लिए’ कुछ ज़्यादा नहीं हो गया? भक्ति, चापलूसी और प्रोपगेंडा में खिलाड़ी का अपमान तो मत करो!”

हालाँकि, दोनों में केवल यह अंतर है कि जयंत चौधरी ने अनजाने में संपादित की गई फोटो को साझा करने के लिए माफी माँगी है। वहीं, यशवंत सिन्हा ने माफी माँगने की भी जहमत नहीं उठाई।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति