Tuesday , September 28 2021

बस या रेलवे स्‍टेशन नहीं ये है काबुल एयरपोर्ट का हाल, एक दूसरे के ऊपर चढ़ते दिखे लोग

एक पूरा देश तालिबान के कब्‍जे में आ चुका है, 20 साल से जिस अफगानिस्तान को पटरी पर लाने की कोशिशें की जा रहीं थीं, उसी अफगानिस्‍तान में अमेरिका ने अपनी फौजें क्‍या हटाई कि एक बार फिर वहां हाहाकार मच गया । तालीबानी कब्‍जे के बाद से ही देश के बाशिंदे जान बचाने की जुगत में लग गए हैं । किस तरह वो देश से बाहर निकल सकें, इसकी कोशिश में जुटे हैं । सोमवार को काबुल एयरपोर्ट पर दिखा नजारा भयावह था । किसी मेले की तरह दिख रहा नजारा लोगों में दहशत के हाल बयां कर रहा था ।

एयरपोर्ट पर भारी भीड़

देश में लगातार बदतर होते हालातों के बीच हजारों की संख्या में लोग अपनी जान बचाने के लिए देश छोड़ने के लिए आतुर दिखें । सोमवार सुबह काबुलके अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर कुछ ऐसा नजारा रहा, यहां हजारों की संख्या में लोग फ्लाइट पकड़ने के लिए तैयार हैं, एयरपोर्ट में घुसने के लिए जगह नहीं है और पूरी तरह से भगदड़ का माहौल है । वहां मौजूद प्रशासन को मजबूरी हवाई फायरिंग का भी सहारा लेना पड़ा ।

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो
अफगानिस्तान के कई स्थानीय पत्रकारों ने काबुल एयरपोर्ट की तस्वीरों/वीडियो को शेयर किया है । वीडियो में इधर उधर परेशान घूमते लोग देखे जा सकते हैं । हजारों की संख्या में लोग अपने बैग लिए घूम रहे हैं और सिर्फ किसी एक फ्लाइट में सीट मिलने का इंतज़ार कर रहे हैं । हालात ये हो गए कि हजारों की भीड़ एयरपोर्ट के रनवे तक आ पहुंची । फ्लाइट में बैठने के लिए भी लोगों में धक्का-मुक्की हो रही है।

बसों और रेल की आ गई याद
ये तस्‍वीरें ठीक वैसी ही लगीं जैसे कि त्‍यौहरों के समय में कभी भारत में बस अड्डे और रेलों का हाल हो जाया करता था । बस की छतों, खिड़कियों से लटके लोग, रेल के ऊपर बैठे लोग । ठीक इसी तरह काबुल एयरपोर्ट में भी हर कोई किसी भी रास्ते से बस फ्लाइट में घुसना चाहता दिखा । लोगों में सत्‍ता परिवर्तन की दहशत साफ दिख रही थी । आपको बता दें, अफगानिस्तान में लगातार खराब होती स्थिति के बीच भारत भी अपने नागरिकों को निकालने की तैयारी कर रहा है । जानकारी के मुताबिक, भारत सरकार ने एअर इंडिया से दो एयरक्राफ्ट रिजर्व करने को कहा है, ताकि काबुल से इमरजेंसी हालात में भारतीय नागरिकों को निकाला जा सके ।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति