Tuesday , October 19 2021

काशीपुर में मां-बेटी की हत्या के मामले में दो आरोपित गिरफ्तार

जसपुर। भोगपुर गांव में मां बेटी की हत्या करने के मामले में पुलिस ने दो हत्या आरोपियों को गिरफ्तार किया है। बता दे की मंगलवार की प्रातः को भोगपुर गांव निवासी जीत कौर (70) की पुत्री परमजीत कौर (35) अपनी 8 वर्षीय पुत्री नैना के साथ की बैंक कार्य के लिए जसपुर को जा रही थी। घात लगाए बैठे तीन युवकों ने पाटल मार कर उनकी हत्या कर दी थी। हत्या की सूचना नैना ने अपने परिजनों को दी थी। हत्या कर हत्यारे फरार हो गए थे। घटना की रिपोर्ट मृतका जीत कौर की पुत्री बलविंदर कौर ने अपने पूर्व पति बलवंत सिंह  उर्फ बंटी निवासी गांव टांडा प्रभापुर, बलविंदर सिंह उर्फ बिल्लू, तथा गौरव सिंह  निवासीगण गांव भोगपुर के खिलाफ दर्ज कराई थी। कोतवाल जेएस देउपा ने बताया कि हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए तीन पुलिस टीमों का गठन किया गया था। पुलिस टीमें आरोपियों की तलाश में जुटी थी। मुखबिर की सूचना पर बृहस्पतिवार को गड़ी हुसैन गांव के पास से बलवंत सिंह उर्फ बंटी निवासी गांव टांडा प्रभापुर, बलविंदर सिंह और बिल्लू निवासी गांव भोगपुर को गिरफ्तार किया है।

तलाक नहीं लेना चाहता था बंटी

भोगपुर गांव निवासी विधवा जीत कौर की पुत्री परमजीत कौर का 6 वर्ष पूर्व उसके पति से तलाक होने पर वह अपने 3 बच्चों के साथ अपनी मां के साथ रह रही थी। उसकी छोटी बहन बलविंदर कौर ने 2 वर्ष पूर्व टांडा प्रभापुर गांव निवासी बलवंत सिंह उर्फ बंटी से प्रेम विवाह किया था। एक वर्ष पूर्व उसका अपने पति से तलाक हो गया था। वह भी अपनी मां के साथ रह रही थी। कोतवाल जेएस देउपा ने बताया कि बलवंत सिंह उर्फ बंटी उसे तलाक नहीं चाहता था। अपनी सास एवं ससुराल के अन्य लोगों के दबाव में उसने गांव में हुए तलाकनामे पर दस्तखत किए थे। उसकी सास जीत कौर उसे  चिढ़ती थी। उसने  अपनी पुत्री की सितारगंज में शादी तय कर दी थी।28 अगस्त को उसकी दूसरी शादी होने वाली थी। इस बात का पता उसको लग गया। वह नहीं चाहता था कि उसकी पत्नी दूसरी शादी करें। वह अक्सर अपने साथियों के साथ जीत कौर के घर के पास शराब पीने आता था। 10 दिन पूर्व रात्रि को वह शराब पीने आया था जीत कौर ने उसकी बाइक में डंडा फंसाकर गिरा दिया था। जीत कौर और परमजीत कौर ने डंडो से उसकी पिटाई की थी। तभी से वह उन दोनों की हत्या करने की योजना थी।  मंगलवार को उसे पता चला की जीत कौर, परमजीत कौर जसपुर बैंक कार्य के लिए जा रही है। उसने साथियों के साथ मिलकर दोनों की हत्या कर दी और आराम से फरार हो गए।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति