Tuesday , September 28 2021

आम्रपाली समूह के 40,000 से ज्यादा होमबायर्स के लिए अच्छी खबर, फंडिंग के लिए 6 बैंकों ने संभाला मोर्चा

आम्रपाली समूह के 40,000 से अधिक घर खरीदारों को दशहरा तक अच्छी खबर मिलने वाली है। दरअसल, छह सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का एक कंसोर्टियम बनाया गया है। ये छह बैंक- पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ इंडिया, यूको बैंक और पंजाब एंड सिंध बैंक हैं। ये बैंक अक्टूबर तक फंडिंग करने में सक्षम होंगे।

बीते 13 अगस्त को इसी मामले में सुनवाई के दौरान शीर्ष अदालत ने बैंकों द्वारा उठाए गए कुछ चिंताओं का जिक्र किया था। बैंक चाहते थे कि आम्रपाली को दिए गए फंड को प्राथमिकता-वित्त पोषण क्षेत्र के तहत कैटेगराइज्ड किया जाए। इसके बाद कोर्ट ने रिसीवर को एक विशेषज्ञ को नियुक्त करने के अलावा आम्रपाली समूह और उसके सीएमडी अनिल कुमार शर्मा नोएडा और ग्रेटर नोएडा में स्थित पांच संपत्तियों का मूल्यांकन करने का निर्देश दिया था।

किश्तों का नहीं हो रहा भुगतान: बीते 13 अगस्त को सुनवाई के दौरान रिसीवर वेंकटरमणी ने अदालत को बताया था कि आम्रपाली प्रोजेक्ट में 15,748 मकानों के मालिक अपनी किश्तों का भुगतान नहीं कर रहे हैं। उनमें से, 9,538 फ्लैट खरीदारों ने कस्टमर डेटा भी नहीं दिया है। इस डेटा को रिकॉर्ड रिसीवर के कार्यालय द्वारा मेंटेन किया जाता है। वेंकटरमण के मुताबिक इनमें से कुछ खरीदारों ने या तो रिफंड के लिए आवेदन किया है या मौजूदा परियोजनाओं में फ्लैटों का पजेशन ले लिया है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति