Tuesday , October 19 2021

1993 के मुम्बई जैसा ब्लास्ट, हजारों को मारने की ट्रेनिंग… ओसामा को जिस चाचा हुमैद ने भेजा Pak, उसने किया UP में सरेंडर

नई दिल्ली/प्रयागराज/लखनऊ। देश में आतंकी मॉड्यूल का खुलासा होने के बाद दिल्ली की स्पेशल सेल को हुमैद उर रहमान की तलाश थी। ताजा खबर है कि उसने शुक्रवार (सितंबर 17, 2021) को यूपी के प्रयागराज करेली थाने में सरेंडर किया है। वह गिरफ्तार आतंकी ओसामा का चाचा है। हुमैद उर रहमान पर आरोप है कि ओसामा और जीशान को पाकिस्तान में ट्रेनिंग देने के लिए मदद की थी।

हुमैद उर रहमान को प्रयागराज से लखनऊ लाया जा रहा है। दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल की एक टीम भी लखनऊ के लिए निकल चुकी है। इसे ट्रांजिट रिमांड पर दिल्ली लाया जाएगा। इसके अलावा अब तक गिरफ्तार किए गए 6 आतंकियों से भी पूछताछ की जा रही है।

ओसामा और जीशान ने पूछताछ में बताया कि पाकिस्तान में 15 दिन ट्रेनिंग में उन्हें AK-47 के अलावा किसी भी केमिकल से कैसे कहाँ ब्लास्ट करना है, सिखाया गया। आईडी बनाना, कम समय मे ब्लास्ट करना भी सिखाया गया। 1993 में कैसे बदला लिया था मुम्बई धमाकों के जरिए, ऐसे ही और ब्लास्ट करना सिखाया। इसके लिए रेलवे ब्रिज, रेलवे ट्रैक में ब्लास्ट आईडी लगाना सिखाया गया। ये भी न हो पाए तो कैसे एक साथ बड़ी भीड़ में धमाका करके हजारों लोगों को एक साथ मारा जाए, ये ट्रेनिंग दी गई।

गिरफ्तार किए गए आतंकियों से पूछताछ जारी

बता दें कि दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल मंगलवार (सितंबर 14, 2021) को पाकिस्तान द्वारा संचालित एक आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ करते हुए 6 आतंकियों को गिरफ्तार किया। इनमें पाकिस्तान से प्रशिक्षित दो आतंकवादी भी शामिल हैं। पुलिस ने अपने इस मल्टी स्टेट ऑपरेशन में विस्फोटक व अन्य चीजों को भी बरामद किया। गिरफ्तार किए गए आतंकियों से पूछताछ की जा रही है। 22 वर्षीय ओसामा दिल्ली में जामिया नगर इलाके के अबुल फजल एन्क्लेव में रहता था, इसे दिल्ली से ही गिरफ्तार किया गया है।

सभी आतंकियों को 14 दिन की पुलिस रिमांड

देश के अलग-अलग हिस्सों से पकड़े गए सभी आतंकियों को कोर्ट ने 14 दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया है। दिल्ली पुलिस का दावा है कि त्योहारों पर गड़बड़ी करने की साजिश रच रहे थे। पुलिस का दावा है कि इन लोगों की दो टीमें बनाई गई थीं जो अंडरवर्ल्ड सरगना दाऊद इब्राहिम के भाई अनीस के संपर्क में थी।

पुलिस ने बताया कि ये आतंकवादी देश में आगामी त्योहारों के दौरान कई विस्फोट करने की योजना बना रहे थे। पुलिस ने कहा कि पाकिस्तान स्थित अनीस इब्राहिम, जो दाऊद इब्राहिम का भाई है, आतंकी योजना को अंजाम देने के लिए अंडरवर्ल्ड के गुर्गों से जुड़ा था। उन्होंने कहा कि पूछताछ से पता चला है कि पाकिस्तान के आतंकी मॉड्यूल को दो घटकों अंडरवर्ल्ड और पाक-आईएसआई प्रशिक्षित आतंकी मॉड्यूल के माध्यम से संचालित किया जा रहा था।

ओसामा और जीशान पाकिस्तान में प्रशिक्षित आतंकवादी

पुलिस ने बताया कि आरोपियतों की पहचान जान मोहम्मद शेख (47) उर्फ ‘समीर’, ओसामा (22), मूलचंद (47), जीशान कमर (28), मोहम्मद अबु बकर (23) और मोहम्मद आमिर जावेद (31) के तौर पर हुई है जिन्हें दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में छापेमारी के बाद गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार लोगों में ओसामा और कमर पाकिस्तान में प्रशिक्षित आतंकवादी हैं जो इंटर सर्विसेज इंटेलीजेंस (आईएसआई) के निर्देश पर काम करते थे। उन्हें आईईडी लगाने के लिए दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश में उपयुक्त स्थानों की तलाश करने का काम दिया गया था।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति