Thursday , October 28 2021

2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव में सिद्धू की राह में बड़ा रोड़ा बन सकते हैं कैप्टन अमरिंदर

नई दिल्ली। पंजाब में मुख्यमंत्री पद छोड़ने वाले कांग्रेस नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले क्या कदम उठाएंगे? क्या कांग्रेस पार्टी में ही रहेंगे? क्या नई पार्टी बनाएंगे? या फिर क्या भारतीय जनता पार्टी में शामिल होंगे? यह बड़ा सवाल बना हुआ है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इसका जवाब दिया।

जब कैप्टन अमरिंदर सिंह से पूछा गया कि क्या आप भारतीय जनता पार्टी में शामिल होंगे तो इसके जवाब में उन्होंने कहा, “मैं कुछ नहीं बताऊंगा , मैं पहले अपने सहयोगियों से बात करूंगा उसी के बाद इसपर फैसला लूंगा।”

कैप्टन ने बताया कि देश और पंजाब की जनता की सोच उनके बारे में उनकी पार्टी की सोच से अलग है, लोग उन्हें रोजाना देशभर से समर्थन के संदेश भेजते हैं। उन्होंने कहा कि दुख बात कि उनकी पार्टी की सोच कुछ और थी।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष  नवजोत सिंह सिद्धू पर जमकर निशाना साधा और कहा कि सिद्धू को कपिल शर्मा शो से इसलिए निकाला गया था कि उन्होंने पाकिस्तान के जनरल को गले लगाया था। कैप्टन ने कहा “सिद्धू को कपिल शर्मा शो से क्यों निकाला गया, क्योंकि जब पाकिस्तान बॉर्डर पर हमारे जवान मर रहे थे तो तुमने जनरल बाजवा को क्यों झप्पी डाली, इमरान खान के शपथग्रहण में क्यों गया।”

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने साफ कर दिया कि अगर 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव में सिद्धू कांग्रेस पार्टी का चेहरा बनते हैं तो वे उसे जीतने नहीं देंगे और ऐसा करने पर अगर उनकी पार्टी उनके खिलाफ जाती है तो जाए। उन्होंने कहा “सिद्धू बड़ा एग्रेसिव आदमी है और यह समझता है कि मेरे बगैर पंजाब नहीं चलेगा, ये जानता नहीं कि चलने के बजाय यह पंजाब को खत्म करके जाएगा।”

कैप्टन ने अंत में भविष्य की रणनीति को लेकर साफ संकेत देते हुए कहा, “जीतने के बाद मैं कुछ भी छोड़ने को तैयार हूं, हार कर नहीं छोड़ूंगा, मैं जीतकर फिर छोड़ूंगा।” कैप्टन के इस बयान से साफ लगता है कि 2022 के पंजाब विधानसभा चुनावों में वे सिद्धू की राह में बड़ा रोड़ा बन सकते हैं।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति