Friday , January 21 2022

‘मनोरंजन और मुफ्त बाँटने वाले नहीं, गंभीर लोग चाहिए’: सिद्धू-चन्नी के खिलाफ हुए पंजाब के कॉन्ग्रेस सांसद मनीष तिवारी

पंजाब (Punjab) में होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Election) की घोषणा के बाद भी सत्तारूढ़ कॉन्ग्रेस (Congress) की आंतरिक सियासत थमने का नाम नहीं ले रही है। इसी क्रम में पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी (Manish Tewari) ने राज्य के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) और प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Siddhu) पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य को एक गंभीर व्यक्ति की जरूरत है।

मनीष तिवारी ने ये कमेंट इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट को रीट्वीट करते हुए किया। उन्होंने लिखा, “पंजाब को ऐसे सीएम की जरूरत है, जिसके पास पंजाब की चुनौतियों का समाधान हो, कड़े फैसले लेने की क्षमता हो। पंजाब को ऐसे गंभीर लोगों की जरूरत है, जिनकी राजनीति सोशल इंजीनियरिंग न हो, मनोरंजन व मुफ्त बाँटने पर ध्यान न हो। जिसे लगातार चुनावों में लोगों ने खारिज कर दिया है।”

दरअसल, रिपोर्ट में पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के एक इंटरव्यू का जिक्र किया गया था। इसमें उन्होंने मंगलवार (11 जनवरी 2022) को पार्टी हाईकमान से प्रदेश में मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने की माँग की थी। चन्नी ने पार्टी आलाकमान पर दबाव बनाने की कोशिश करते हुए कहा कि जब भी पार्टी ने राज्य में सीएम फेस अनाउंस किया है वो जीती है। लेकिन जब कभी उसने ऐसा नहीं किया तो वो हारी है।

गौरतलब है कि उनसे कुछ दिन पहले नवजोत सिंह सिद्धू ने भी कॉन्ग्रेस आलाकमान से मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने की माँग की थी। इसके अलावा चुनावी समर के समय में मंगलवार (11 जनवरी 2022) को सीएम ने तो एक बार फिर से अपना बागी तेवर दिखाते हुए यहाँ तक कह दिया था, “हर कोई सीएम बन सकता है क्या? सीएम हाईकमान नहीं बनाता, बल्कि पंजाब के लोग बनाते हैं। ये किसने कह दिया कि हाईकमान सीएम बनाएगा।” दरअसल, इस तरह का दबाव बनाकर सिद्धू खुद को पंजाब का सीएम घोषित करवाना चाहते हैं। 29 दिसंबर 2021 को उन्होंने पंजाब में सीएम फेस के मुद्दे पर कहा था कि बिना दूल्हे के बाराती कैसा?

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति