Sunday , May 29 2022

यूक्रेन के Chernobyl न्यूक्लियर प्लांट पर रूस का कब्जा, क्यों है ये खतरनाक, इसे दिखाती है सीरीज

रूस और यूक्रेन के बीच की जंग ने पूरी दुनिया को तनाव में रखा हुआ है. सभी की नजरें दोनों देशों पर टिकी हैं. रूसी सेना लगातार यूक्रेन को पटखनी दे रही है. उन्होंने यूक्रेन के चेर्नोबिल न्यूक्लियर प्लांट पर अपना कब्जा जमा लिया है. यूक्रेन ने इस प्लांट को बचाने की काफी कोशिश की, लेकिन वो इसमें कामयाब नहीं हो सका.

चेर्नोबिल न्यूक्लियर प्लांट का भी अपना एक इतिहास है. 26 अप्रैल 1986 में परमाणु रिसाव की वजह से यहां पर भयंकर हादसा हुआ था. इस खौफनाक और दिल दहला लेने वाली घटना पर सीरीज भी बन चुकी है. जो कि साल 2019 में रिलीज की गई थी. इस सीरीज में उसी भयावह मंजर और मौत के तांडव को दिखाया गया. बताया गया कैसे यूक्रेन को एक बड़े विस्फोट का सामना करना पड़ा था. जिसकी वजह से रूस, बेलारूस, यूक्रेन,  स्कैंडिनेविया और पश्चिमी यूरोप तक रेडियोएक्टिव मैटीरियल रिलीज हुए. इसे इतिहास की सबसे खराब मानव निर्मित आपदा में गिना जाता है.

आप भी HBO की इस मिनी-सीरीज चेर्नोबिल को डिज्नी प्लस  हॉटस्टार पर देख सकते हैं. इसके सिर्फ 5 एपिसोड हैं. सच्ची घटना से प्रेरित ये सीरीज Craig Mazinने क्रिएट की. Johan Renck ने इसे डायरेक्ट किया. इसकी स्टारकास्ट में Jessie Buckley, Jared Harris, Stellan Skarsgård, Emily Watson, Adam Nagaitis जैसे सितारे शामिल हैं.

कैसे हुए था न्यूक्लियर विस्फोट?    
चेर्नोबिल न्यूक्लियर प्लांट हादसा RBMK-प्रकार के परमाणु रिएक्टर के स्टीम टर्बाइन में सेफ्टी टेस्ट के दौरान हुआ था. टेस्ट की तैयारी के वक्त पावर आउटपुट अचानक से शून्य हो गया था. इस पावर लेवल को बाद में री-स्टोर करने में ऑपरेटर असमर्थ हो गए थे. जिसने रिएक्टर को अस्थिर स्थिति में डाल दिया था. इसके बावजूद टेस्ट को जारी रखा गया.

ऑपरेटर की लापरवाही और डिजाइन flaws की वजह से रिएक्ट ने विस्फोट करना शुरू दिया था. बस इसके बाद देखते  ही देखते सब कुछ तबाही में बदल गया. हादसे में हजारों लोगों की जानें गई थीं. साल 2000 में इस न्यूक्यिलर प्लांट ने अन्य 3 रिएक्टर्स को बंद कर दिया गया था. तब से ये बहाल नहीं हुए हैं.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति