Friday , December 2 2022

रूस-यूक्रेन की जंग का तीसरा दिन, 72 घंटे के युद्ध में क्या-क्या हुआ, किसे कितना नुकसान

यूक्रेन पर रूस के हमले को 72 घंटे से ज्यादा हो चुके हैं. रूस यूक्रेन की राजधानी कीव में घुस गया है सड़को पर जंग की शुरुआत हो चुकी है. कीव के प्रशासन ने अपने नागरिकों के चेतावनी दी है कि वो अपने घरों से न निकलें. यूक्रेन का ये भी कहना है कि उसने सैनिकों को ला रहे एक रूसी विमान को मार गिराया है.

– रूस ने गुरुवार तड़के अपने सैनिकों को यूक्रेन पर हमले की इजाजत दे दी थी. तब से यूक्रेन में तबाही का मंजर है. यूक्रेन पर रूसी हमले का आज तीसरा दिन है. राजधानी कीव में भीषण गोलाबारी की आवाजें सुनाई दे रही हैं और लोगों के बीच खौफ पसरा हुआ है.

कई लोग जान बचाने के लिए अपने घरों को छोड़कर सुरक्षित ठिकानों की तरफ बढ़ रहे हैं. हालांकि, प्रशासन ने कीव में रूसी और यूक्रेनी सेना के बीच गोलीबारी शुरू होने को लेकर चेतावनी दी है कि लोग अपने घरों में ही रहें.

– संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में शुक्रवार को यूक्रेन पर रूसी हमले की निंदा करने और युद्ध समाप्त करने के लिए एक प्रस्ताव पेश किया गया जिसे रूस ने अपने वीटो पावर का इस्तेमाल करते हुए रोक दिया. 15 सदस्यीय सुरक्षा परिषद में 5 स्थायी सदस्य हैं.

– रूस के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया और यूरोपीय संघ ने कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगाए हैं. ताइवान ने भी यूक्रेन पर रूस के हमले की निंदा करते हुए कहा है कि वो रूस के खिलाफ सभी देशों के समर्थन में है और उस पर लगे प्रतिबंधों का समर्थन करता है.

– यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने एक वीडियो जारी कर कहा है कि राष्ट्रपति सहित सभी बड़े नेता यूक्रेन में हैं और देश को बचाने के लिए लड़ रहे हैं. उन्होंने कहा है कि हम देश की स्वतंत्रता के लिए खड़े हैं और उन लोगों का धन्यवाद करते हैं जो इस युद्ध में हमारे हीरो हैं.

– वोलोदिमीर जेलेंस्की ने नेटो और यूरोपीय देशों पर रूस के खिलाफ अपर्याप्त कार्रवाई को लेकर अपना गुस्सा भी जाहिर किया है. उन्होंने एक वीडियो में तो ये भी कहा कि नेटो से जब पूछा जा रहा है कि क्या यूक्रेन नेटो में शामिल होगा तो सब देश चुप हैं, कोई नहीं बोल रहा, सब डरे हुए हैं.

जेलेंस्की का कहना है कि अभी से भी युद्ध को रोका जा सकता है अगर यूरोप के देश सही और तेजी से कदम उठाते हैं.

– हमले के पहले दिन ही रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की. इस बातचीत के दौरान नरेंद्र मोदी ने पुतिन से हिंसा खत्म करने की अपील की. पुतिन ने और भी कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों से बात की.

– यूक्रेन और रूस के बीच बातचीत के भी आसार नजर आ रहे हैं. रूसी राष्ट्रपति कार्यालय के प्रवक्ता दमित्री पेस्कोव ने कहा है कि रूस यूक्रेन के साथ बातचीत के लिए तैयार है. साथ ही उन्होंने शर्त रखी है कि ये बातचीत बेलारूस की राजधानी मिंस्क में होगी और इसमें यूक्रेन की स्थिति को न्यूट्रल घोषित किया जाएगा. रूस ने ये भी शर्त रखी है कि बातचीत यूक्रेन की सेना को कम करने के शर्त पर होगी.

अब तक किसे कितना नुकसान?

वहीं, ब्रिटेन ने हमले में मरने वालों को लेकर एक अलग आंकड़ा जारी किया है जिसके अनुसार, युद्ध में 450 रूसी सैनिक मारे गए हैं. यूक्रेन से 194 लोगों की मौत हुए है जिसमें 57 नागरिक शामिल हैं.

संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि यूक्रेन में रूसी हवाई हमले में कम से कम 25 नागरिक मारे गए हैं और 102 घायल हैं.

रूसी रक्षा मंत्रालय ने दावा किया है कि उनके सैनिकों ने 211 यूक्रेनी सैन्य ठिकानों को नष्ट कर दिया है. यूक्रेन कह रहा है कि उसने रूस के 80 टैंक, 516 बख्तरबंद गाड़ियां, 7 हेलिकॉप्टर, 10 एयरक्राफ्ट और 20 क्रूज मिसाइलों को नष्ट कर दिया है.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.