Sunday , May 29 2022

‘मुगलों ने ऐसे ही किया था राजपूतों का नरसंहार’: भगवान शिव की शरण में पहुँचा यूक्रेन, इधर PM मोदी की उच्च-स्तरीय बैठक

यूक्रेन में रूस का सैन्य अभियान जारी है और वहाँ से मंगलवार (1 मार्च, 2022) को भारत के लिए भी दुखद खबर सामने आई है। खारकीव शहर में 21 वर्षीय नवीन कुमार शेखरप्पा नाम के एक भारतीय मेडिकल छात्र की बमबारी में मौत हो गई, जो कर्नाटक के हावेरी के रहने वाले थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवीन की माता-पिता से बातचीत की। रूस-यूक्रेन युद्ध पर आज एक उच्च-स्तरीय बैठक भी हुई है। उधर भारत में यूक्रेन के राजदूत ने महाशिवरात्रि और भगवान शिव की दुहाई देते हुए शांति की अपील की है।

भारत में यूक्रेन के राजदूत इगोर पोखिला ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, “आज महाशिवरात्रि है। कृपया भगवान शिव से प्रार्थना करें कि रूस और यूक्रेन का युद्ध जल्द से जल्द ख़त्म हो।” उन्होंने कहा कि अगर वो नहीं भूल रहे हैं तो आज महाशिवरात्रि है और इसीलिए वो भगवान शिव के भक्तों से निवेदन करते हैं कि वो रूस-यूक्रेन युद्ध के रुकने के लिए प्रार्थना करें। उन्होंने कहा कि युद्ध रुकने के बाद ही यूक्रेन के लोग इस संकट से बाहर निकल सकते हैं।

इगोर पोखिला ने कहा, “यूक्रेन में रोज रात को गोलीबारी की जा रही है। हर तरफ से गोलीबारी हो रही है। लोगों के घर तबाह हो गए हैं। दुःख और अफ़सोस की बात ये है कि यूक्रेन में इस तरह के हालात बन गए हैं।” वो पहले ही भारत के अंतरराष्ट्रीय कद की बात करते हुए इस मामले में हस्तक्षेप करने की माँग कर चुके हैं। बता दें कि महाशिवरात्रि के अवसर पर हिन्दू भगवान शिव की पूजा करते हैं और रात को जागरण भी करते हैं। इस दौरान उपवास रख कर भगवान शिव और माँ पार्वती के विवाह का उत्सव मनाया जाता है।

यूक्रेन के राजपूत ने रूस-यूक्रेन युद्ध पर कहा, “ये ऐसा ही है जैसे मुगलों ने राजपूतों का नरसंहार किया था। हमलोग दुनिया के सभी प्रभावशाली नेताओं को कह रहे हैं कि व्लादिमीर पुतिन की बमबारी को रोकने के लिए सभी माध्यमों का इस्तेमाल करें। मानवीय और मेडिकल मदद के लिए भारत का शुक्रिया। मुझे आश्वासन दिया गया है कि यूक्रेन को मानवीय मदद अधिक से अधिक मिलेगी। पोलैंड में इसके लिए पहली फ्लाइट लैंड करेगी। हम भारत के आभार व्यक्त करते हैं।”

रूस ने युक्रेन की राजधानी कीव में इंटेलिजेंस इंफ्रास्ट्रक्चर के नजदीक रह रहे लोगों से कहा है कि वो तत्काल अपने घरों को खाली कर के वहाँ से निकलें। उधर ‘Adidas’ नामक फैशन कंपनी ने रूसी फुटबॉल फेडरेशन के साथ करार ख़त्म कर दिया है। NATO का कहना है कि रूस की तरफ से खतरे के बावजूद उसे परमाणु हथियारों को लेकर अलर्ट लेवल में बदलाव नहीं करना है। EU के मुखिया चार्ल्स मिशेल ने रूस पर यूक्रेन में ‘जियोपॉलिटिकल आतंकवाद’ फैलाने का आरोप लगाया।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति