Tuesday , June 28 2022

10 दिन में 7 हजार केस, संक्रमण दर में भी उछाल; दिल्ली में फिर काल बनने लगा कोरोना!

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पिछले 10 दिनों में कोविड-19 के 7,100 से अधिक मामले सामने आए हैं. वहीं चिकित्सकों और अन्य विशेषज्ञों ने लोगों को चेतावनी दी है कि वे सतर्कता में कमी नहीं लाएं और कोविड संबंधी सभी उपयुक्त व्यवहार का पालन करें. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, दैनिक मामलों में वृद्धि के बीच संक्रमण दर भी 7 जून को दर्ज 1.92 प्रतिशत से बढ़कर 15 जून को 7.01 प्रतिशत हो गई है.

दिल्ली में बुधवार को कोविड-19 के एक महीने में सबसे अधिक 1,375 मामले सामने आये थे जबकि किसी मरीज की मौत नहीं हुई थी. दस मई को, दिल्ली में 4.38 प्रतिशत संक्रमण दर के साथ 1,118 मामले सामने आए और एक मरीज की मौत हुई थी, जबकि 8 मई को दिल्ली में 5.34 प्रतिशत संक्रमण दर के साथ 1,422 मामले दर्ज किए गए थे जबकि किसी मरीज की मृत्यु नहीं हुई थी.

10 दिन के अंदर 450 फीसदी की बढ़ोत्तरी
दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग द्वारा साझा किए गए आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार कोविड-19 मामलों की संख्या में पिछले दस दिनों में लगातार वृद्धि दर्ज की गई है और दैनिक संख्या 6 जून के 247 मामलों से बढ़कर 15 जून को 1,300 से अधिक हो गई तथा इस अवधि में कुल 7,175 मामले सामने आए. यह इस अवधि में दैनिक मामलों में लगभग 450 प्रतिशत की वृद्धि है.

डॉक्टरों ने की कोविड प्रोटोकाल पालन करने की अपील
विभिन्न प्रमुख अस्पतालों के चिकित्सकों ने लोगों से कोविड-उपयुक्त व्यवहार का पालन करने की अपील की, विशेष रूप से मास्क पहनना और सामाजिक दूरी बनाए रखना, भीड़-भाड़ वाली जगहों से बचना और अन्य सुरक्षा उपाय करना। हालांकि चिकित्सकों ने लोगों से आग्रह किया कि वे नहीं घबराएं. पिछले हफ्ते, विशेषज्ञों ने कहा था कि राष्ट्रीय राजधानी में हाल ही में सामने आये कोरोना वायरस मामलों में वृद्धि के पीछे लोगों द्वारा बचाव उपायों को कम करना और छुट्टियों के मौसम में यात्रा करना मुख्य वजह है.

आरएमएल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक बी. एल. शेरवाल ने कहा है कि सतर्कता बरतने की जरूरत है, लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है,

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.