Thursday , June 20 2024

द्रौपदी मुर्मू ने मांगा था BJD से समर्थन, नवीन पटनायक ने जवाब से जीत लिया दिल

राष्ट्रपति चुनाव के उम्‍मीदवार को लेकर लंबे समय से चल रहा मंथन मंगलवार देर रात खत्‍म हुआ । बीजेपी की अगुवाई वाले एनडीए गठबंधन ने अपने उम्मीदवार का ऐलान कर दिया है । झारखंड की राज्यपाल रह चुकीं द्रौपदी मुर्मू एनडीए का चेहरा होंगी । नाम के ऐलान के बाद द्रौपदी मुर्मू ने सबसे पहले BJD यानी बीजू जनता दल से समर्थन की अपील की थी । अब इस पर BJD चीफ नवीन पटनायक की प्रतिक्रिया आई है।

नवीन पटनायक ने बयान से जीता दिल

बीजेपी प्रमुख और ओडीशा के सीएम ने कहा है कि द्रौपदी मुर्मू का NDA के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में होना ओडिशा के लिए गर्व का क्षण है।  जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेरे साथ इस पर चर्चा की तो मुझे बहुत खुशी हुई। वो देश में महिला सशक्तिकरण के लिए एक उदाहरण स्थापित करेंगी ।

ओडीशा की ही हैं द्रोपदी

आपको बता दें कि द्रौपदी मुर्मू भी ओडिशा की ही रहने वाली हैं । ओडिशा के आदिवासी जिले मयूरभंज के रायरंगपुर गांव में जन्मी द्रौपदी मुर्मू ओडिशा की पहली महिला और आदिवासी नेता हैं, जिन्हें राज्यपाल नियुक्त किया गया था । वो 18 मई 2015 से 12 जुलाई 2021 तक झारखंड के राज्यपाल पद पर रहीं । द्रौपदी मुर्मू देश की पहली आदिवासी महिला राज्यपाल हैं । अब वो देश की पहली ऐसी राष्‍ट्रपति बन सकती हैं जो आदिवासी हैं ।

मुर्मू ने 2013 में बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में एसटी मोर्चे की सदस्य रहीं । 10 अप्रैल 2015 तक उन्होंने यह पद संभाला था, वह 2013 में ओडिशा के मयूरभंज की जिला अध्यक्ष निर्वाचित हुईं थी । वह 2010 में भी जिला अध्यक्ष निर्वाचित हुई थीं । द्रौपदी मुर्मू साल 2000 से लेकर 2009 तक रायरंगपुर सीट से दो बार विधायक चुनी गईं । उन्हें राज्य परिवहन और वाणिज्य विभाग का मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बनाया गया था । इसके साथ ही वो 2002 लेकर 2009 तक वह बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी में एसटी मोर्चा की सदस्य रह चुकी थीं ।  इन्होंने 2002-2004 के बीच मत्स्य पालन विभाग और पशुपालन विभाग की भी जिम्मेदारी संभाली थी।

24 जुलाई को खत्म हो रहा है कोविंद का कार्यकाल
गौरतलब है कि 25 जुलाई को देश को नया राष्ट्रपति मिलेगा । अभी नामांकन प्रक्रिया चल रही है ।  29 जून को पर्चा भरने की आखिरी तारीख है। राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान 18 जुलाई को होगा और मतगणना 21 जुलाई को होगी। मौजूदा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को खत्म हो रहा है। विपक्ष की ओर से यशवंत सिन्‍हा का नाम फाइनल किया गया है ।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch