Friday , August 12 2022

खतरे में उद्धव ठाकरे की सरकार! फ्लोर टेस्ट के लिए एकनाथ शिंदे ने बनाया मेगा प्लान

मुंबई। शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे अब एक अलग योजना पर काम कर रहे हैं. माना जा रहा है कि वे अपने समूह में शामिल पार्टी के 20 विधायकों की जगह गुट के निर्दलीय विधायकों को मुंबई भेजकर राज्यपाल को चिट्ठी दे सकते हैं कि पार्टी के बागी विधायकों के साथ ही निर्दलीय विधायक महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार से अपना समर्थन वापस ले रही है, जिसके बाद राज्यपाल विधानसभा में शक्ति परीक्षण (फ्लोर टेस्ट) की प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं.

शिंदे ऐसा इसलिए भी कर सकते है क्योंकि शिवसेना अपने बागी विधायकों से नाराज है और उद्धव ठाकरे निर्दलीय विधायकों पर अपना जोर नहीं डाल सकते हैं. सुरक्षा के लिहाज से भी निर्दलीय विधायकों को ज्यादा दिक्कत नहीं होगी. एकनाथ शिंदे और शिवसेना के विधायकों का बड़ा हिस्सा 22 जून से असम की राजधानी गुवाहाटी के एक होटल में डेरा डाले हुए है. बागी विधायकों ने राज्य की महा विकास आघाड़ी (एमवीए) गठबंधन सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है जिससे सरकार गिरने का खतरा उत्पन्न हो गया है.

इससे पहले, शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे ने, उनके समूह के 20 विधायकों के महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले दल के संपर्क में होने के दावे को खारिज करते हुए मंगलवार को कहा कि वह जल्द ही मुंबई लौटेंगे. उन्होंने शिवसेना से उनके समूह के उन विधायकों से नाम का खुलासा करने को कहा, जो कथित रूप से पार्टी के संपर्क में हैं. शिंदे और उनके समूह के विधायक पिछले एक सप्ताह से यहां एक लग्जरी होटल में ठहरे हुए हैं. शिंदे ने गुवाहाटी में होटल के बाहर संवाददाताओं से कहा कि उनके पास 50 विधायकों का समर्थन है. उन्होंने कहा, ‘ये सभी विधायक हिंदुत्व को आगे ले जाने के लिए स्वेच्छा से यहां आए हैं.’

‘हम बालासाहेब ठाकरे के हिंदुत्व की विचारधारा पर चलते रहेंगे’
शिंदे ने कहा, “दूसरे पक्ष के कुछ लोग दावा कर रहे हैं कि यहां कुछ विधायक उनके संपर्क में हैं. यदि ऐसा है, तो उन्हें उनका (विधायकों का) नाम बताना चाहिए.” उन्होंने कहा, “हमारा रुख स्पष्ट है… हमें दिवंगत बालासाहेब ठाकरे के सपने वाली शिवसेना को आगे ले जाना है. हम हिंदुत्व की उनकी विचारधारा पर चलते रहेंगे.” उन्होंने कहा, “यहां मौजूद विधायकों को लेकर चिंता करने की आवश्यकता नहीं है. सभी विधायक खुश एवं सकुशल हैं. कोई भी व्यक्तिगत लाभ के लिए यहां नहीं आया है.”

‘गुवाहाटी में मौजूदा कोई भी विधायक मुंबई में पार्टी के किसी नेता के संपर्क में नहीं’
असम के गुवाहाटी में आने के बाद से शिंदे अधिकतर समय होटल में रहे हैं. वह मंगलवार को संक्षित बयान देने के लिए अपने दो निकट सहयोगियों के साथ उस होटल से बाहर आए, जहां वे डेरा डाले हुए हैं. बागी खेमे में शामिल शिवसेना के मंत्री उदय सामंत ने कहा कि गुवाहाटी में मौजूदा कोई भी विधायक मुंबई में पार्टी के किसी नेता के संपर्क में नहीं है. सामंत ने पहले से रिकॉर्ड वीडियो के जरिए बयान दिया, “हम मुंबई में शिवसेना के किसी नेता के संपर्क में नहीं हैं। हम केवल एकनाथ शिंदे के संपर्क में हैं.”

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.