Friday , June 14 2024

MS Dhoni Runout WC 2019: …जब टूटे थे करोड़ों दिल, वर्ल्डकप 2019 में एमएस धोनी का रनआउट याद कर इमोशनल हुए फैन्स

वर्ल्डकप 2019 का सेमीफाइनल मुकाबला. भारत बनाम न्यूजीलैंड. टीम इंडिया को फाइनल में पहुंचने के लिए 10 बॉल में 25 रनों की ज़रूरत थी. महेंद्र सिंह धोनी स्ट्राइक पर थे और हर किसी को उम्मीद थी कि माही का चमत्कार काम करेगा और टीम इंडिया जीत जाएगी.

लेकिन 49वें ओवर की तीसरी बॉल एमएस धोनी के अंगूठे पर लगी और लेग साइड की ओर से चली गई. मार्टिन गुप्टिल के हाथ में बॉल गई, महेंद्र सिंह धोनी दूसरा रन लेने के चक्कर में दौड़े और डायरेक्ट हिट सीधा स्टम्प पर लगी.

एमएस धोनी ने डाइव नहीं लगाई थी, बल्ला क्रीज़ से सिर्फ दो इंच की दूरी पर रह गया. महेंद्र सिंह धोनी रनआउट हुए और इसी के साथ करोड़ों लोगों की उम्मीदें टूट गई. न्यूजीलैंड सेमीफाइनल मैच जीत गया और फाइनल में गया.

10 जुलाई 2019 को खेला गया ये मुकाबला महेंद्र सिंह धोनी के इंटरनेशनल करियर का आखिरी मैच साबित हुआ. भारत का सबसे बड़ा कप्तान, सबसे बेहतरीन लिमिटेड प्लेयर्स में एक खिलाड़ी बिना किसी बड़े फेयरवेल के इस तरह विदा हो गया.

वर्ल्डकप सेमीफाइनल की इस उम्मीद को टूटे हुए 3 साल हो गए हैं और अब फैन्स इस पल को फिर से याद कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर सुबह से ही अलग-अलग तरह के रिएक्शन आ रहे हैं. जहां फैन्स इस पल को याद कर रहे हैं.

बता दें कि इस मैच में न्यूजीलैंड ने पहले बैटिंग की थी और 239 का स्कोर बनाया था. न्यूजीलैंड की ओर से रॉस टेलर ने 74, केन विलियमसन 67 रनों की पारी खेली थी. जवाब में टीम इंडिया का टॉप ऑर्डर बुरी तरह फ्लॉप साबित हुआ, जिसने हार की नींव रखी थी.

रोहित शर्मा, केएल राहुल और विराट कोहली 1-1 रन ही बना पाए. दिनेश कार्तिक, ऋषभ पंत और हार्दिक पंड्या भी कोई बड़ा कमाल नहीं कर पाए. अंत में महेंद्र सिंह धोनी (50) और रवींद्र जडेजा (77) रनों की पारियों ने कुछ उम्मीद बांधी, लेकिन जब धोनी आउट हुए मानो सब खत्म हो गया था.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch