Friday , October 7 2022

सोनाली फोगाट के शव पर नुकीली चीज से चोट के निशान, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से खुलासा, हत्या की FIR दर्ज

नई दिल्ली। टिक टॉक स्टार सोनाली फोगाट की मंगलवार को मौत हो गई थी. शुरुआत में बताया गया कि हार्ट अटैक की वजह से उनका निधन हुआ. लेकिन अब जो पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आई है, उसमें दावा हुआ है कि सोनाली के शरीर पर चोट के कई निशान हैं. किसी नुकीली चीज के ये निशान बताए जा रहे हैं. अभी के लिए सोनाली के परिवार की शिकायत पर धारा 302 के तहत एक FIR दर्ज की गई है.

अब क्योंकि इस मामले में हत्या की FIR दर्ज कर ली गई है, ऐसे में पुलिस कई दूसरे पहलुओं पर भी जांच करने वाली है. शुरुआत में जो सिर्फ एक साधारण मौत का मामला लग रहा था, पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने उसे उलझा दिया है. अभी तक ये स्पष्ट नहीं है कि किस नुकीली चीज से सोनाली के शरीर पर वो चोट के निशान आए हैं, इतना जरूर बताया गया है कि कई जगहों पर ये देखने को मिले हैं.

परिवार बोला- राजनीतिक षड्यंत्र

गोवा पुलिस को जो पोस्टमार्टम रिपोर्ट सौंपी गई है, उसमें मौत का कारण नहीं बताया गया है. सिर्फ इतनी जानकारी है कि शरीर पर चोट के निशान हैं. परिस्थिति को देखते हुए सोनाली का विसरा और टिस्यू आगे की जांच के लिए भेजे दिए गए हैं. वहीं पुलिस ने पूछताछ के लिए सुधीर और सुखबिंदर को बुलाया है. दोनों पर ही सोनाली के परिवार ने गंभीर आरोप लगाए हैं. परिवार द्वारा दर्ज की गई FIR में तो राजनीतिक षड्यंत्र के तहत हत्या की बात भी कही है.

वहीं बढ़ते विवाद को देखते हुए हरियाणा सरकार में मंत्री अनिल विज ने इस पूरे मामले में हाई लेवल जांच की मांग उठा दी है. उनका कहना है कि जब परिवार द्वारा इतने गंभीर आरोप लगाए जा रहे हैं, ऐसी स्थिति में उच्च स्तरीय जांच ही जरूरी हो जाती है. उसी के जरिए सच सामने आ पाएगा.

अभी के लिए सोनाली फोगाट के शव को गोवा एयरपोर्ट पर ले जाया जा रहा है. वहां से फिर इसे फ्लाइट के जरिए दिल्ली ले जाया जाएगा और अंत में उनका पार्थिव शरीर हरियाणा के हिसार पहुंचेगा.

क्या है पूरा मामला?

सोनाली फोगाट टिकटॉक स्टार थीं. वह 2019 में तब चर्चा में आई थीं, जब हरियाणा विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने उन्हें आदमपुर सीट से उम्मीदवार बनाया था. इस चुनाव में सोनाली को कांग्रेस के कुलदीप बिश्नोई ने हरा दिया था. वहीं इस मामले की बात करें तो पुलिस के मुताबिक, सोनाली फोगाट 22 अगस्त को गोवा आई थीं. वह अंजुना के एक होटल में ठहरी थीं. सोमवार रात को वह एक पार्टी में गई थीं. मंगलवार सुबह बेचैनी की शिकायत होने पर उन्हें सेंट एंथनी हॉस्पिटल लाया गया था. पुलिस का कहना है कि अस्पताल लाए जाने से पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी.

परिवार वालों ने उनकी मौत की सीबीआई जांच कराने की मांग की है. उनके भाई ने फार्म हाउस से सीसीटीवी कैमरा और लैपटॉप गायब होने का भी आरोप लगाया है. साथ ही यह भी दावा किया है कि उनके ही दो साथियों ने उनकी हत्या की है.

क्या होती है धारा 302?

आईपीसी की धारा 302 कई मायनों में काफी महत्वपूर्ण है. कत्ल के आरोपियों पर धारा 302 लगाई जाती है. अगर किसी पर हत्या का दोष साबित हो जाता है, तो उसे उम्रकैद या फांसी की सजा और जुर्माना हो सकता है. कत्ल के मामलों में खासतौर पर कत्ल के इरादे और उसके मकसद पर ध्यान दिया जाता है. इस तरह के मामलों में पुलिस को सबूतों के साथ ये साबित करना होता है कि कत्ल आरोपी ने किया है. आरोपी के पास कत्ल का मकसद भी था और वह कत्ल करने का इरादा भी रखता था.

पेशे से एक्टर भी थीं सोनाली

असल में सोनाली बीजेपी लीडर होने के साथ-साथ एक एक्टर भी थीं. वह सोशल मीडिया पर अपने छोटे-छोटे वीडियोज और दिलकश तस्वीरों के जरिए अक्सर छाई रहती थीं. ऐसे में उनका फिटनेस फ्रिक होना यानी अपनी सेहत के लिए सजग रहना भी लाजिमी था. और सोनाली सचमुच अपनी सेहत का हमेशा ख्याल रखती थीं. घरवालों का कहना है कि सोनाली की मौत अचानक यूं हार्ट अटैक से हो जाए, यह बात मुमकिन नहीं है. इसी वजह से अब जब हत्या की FIR दर्ज हुई थी तो परिवार का शक और ज्यादा बढ़ गया है. वो इस पूरे मामले में सीबीआई जांच की मांग कर रहा है.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.