Friday , September 30 2022

Sir Don Bradman Birthday: 6 तिहरे शतक और 99.94 का औसत, डॉन ब्रैडमैन के डेब्यू मैच में बना था एक अटूट शर्मनाक रिकॉर्ड

क्रिकेट की दुनिया के डॉन का जन्म 114 साल पहले आज ही के दिन (27 अगस्त 1908) ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स के कूटामुंड्रा में जन्म हुआ था. इनका नाम सर डोनाल्ड जॉर्ज ब्रैडमैन था. इन्हें ‘डॉन ब्रैडमैन’ के नाम से भी पहचाना जाता है. हालांकि वह अब इस दुनिया में नहीं हैं. 25 फरवरी 2001 को उनका निधन हो गया था. मगर उनके रिकॉर्ड अब तक अटूट हैं.

ऑस्ट्रेलिया के लिए सिर्फ 52 टेस्ट खेलने वाले ब्रैडमैन का औसत 99.94 का था, जो अब तक अटूट ही है. इस बेहतरीन औसत के साथ ब्रैडमैन ने कुल 6996 रन बनाए. उन्होंने करियर में कुल 6 तिहरे शतक जमाए. ब्रैडमैन जैसी प्रतिभा अब तक क्रिकेट में दूसरी नहीं हुई है.

ब्रैडमैन ने नवंबर 1928 में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था. डॉन ब्रैडमैन के उस डेब्यू टेस्ट में एक ऐसा शर्मनाक रिकॉर्ड बना था, जिसे कोई भी ऑस्ट्रेलियन याद नहीं करना चाहेगा. इंग्लैंड के खिलाफ ब्रिस्बेन (30 नवंबर से 5 दिसंबर, 1928) में खेले गए उस टेस्ट के दौरान कुछ दिलचस्प आंकड़े सामने आए थे.

ऑस्ट्रेलियन याद नहीं करना चाहेंगे ब्रैडमैन का डेब्यू टेस्ट 

दरअसल, इंग्लिश टीम ने वह टेस्ट मैच 675 रनों के अंतर से जीता था. तब टेस्ट मैच में रनों के अंतर से सबसे बड़ी जीत का यह रिकॉर्ड बना था. दिलचस्प है कि यह रिकॉर्ड अब तक अटूट है. हालांकि ऑस्ट्रेलिया ने 1934 में इंग्लैंड को 562 रनों से हराया, लेकिन 675 रनों का आंकड़ा आज भी उससे दूर है.

सर डॉन ब्रैडमैन अपने डेब्यू टेस्ट में कुछ खास नहीं कर सके थे. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की ओर से 7वें नंबर पर बैटिंग करते हुए पहली पारी में 18 रन बनाए. जबकि दूसरी पारी में छठे नंबर पर उतरकर एक रन ही बना पाए थे.

Sir Don Bradman
Sir Don Bradman, Getty.

रनों के लिहाज से टेस्ट क्रिकेट में सबसे बड़ी हार

 हारने वाली टीम     इतने रनों से     विरुद्ध           जगह          साल
ऑस्ट्रेलिया            675 रनों से     इंग्लैंड               ब्रिस्बेन          1928
इंग्लैंड                 562 रनों से     ऑस्ट्रेलिया          द ओवल       1934
साउथ अफ्रीका     530 रनों से     ऑस्ट्रेलिया          मेलबर्न          1911
ऑस्ट्रेलिया          492 रनों से     साउथ अफ्रीका   जोहानिसबर्ग    2018
पाकिस्तान         491 रनों से     ऑस्ट्रेलिया            पर्थ              2004

आखिरी टेस्ट में चार रन और बनाते, तो 100 का एवरेज होता

सर डॉन ब्रैडमैन को अपने करियर एवरेज को 100 तक ले जाने के लिए आखिरी टेस्ट पारी में सिर्फ चार रनों की जरूरत थी. इंग्लैंड के खिलाफ उस टेस्ट में ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ब्रैडमैन दूसरी ही गेंद खेलते हुए बोल्ड हो गए. उनका वह ड्रीम विकेट इंग्लिश लेगब्रेक गुगली बॉलर एरिक होलीज ने लिया था.

ब्रैडमैन टेस्ट करियर में 7000 रन बनाने से भी चूक गए. आखिरकार 52 टेस्ट मैचों में 99.94 की औसत से 6996 रन के साथ उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कहा था.

ब्रैडमैन का करियर

डॉन ने 52 टेस्ट मैचों में 99.94 की औसत से 6996 रन बनाकर संन्यास लिया
ब्रैडमैन ने टेस्ट क्रिकेट में 29 शतक और 13 अर्धशतक जमाए.
फर्स्ट क्लास क्रिकेट के 234 मैचों में 95.14 की औसत से 28067 रन बनाए
इस दौरान उनके नाम 117 शतक और 69 अर्धशतक दर्ज हैं

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.