Friday , October 7 2022

भारत-पाक मैच के पांच मोमेंट्स हमेशा याद रहेंगे:हार्दिक ने रिजवान को गले लगाया, नसीम शाह दर्द से कराहते रहे फिर भी की गेंदबाजी

लगभग 10 महीने पहले 24 अक्टूबर 2021 को वर्ल्ड कप के इतिहास में भारतीय टीम पहली बार पाकिस्तान से हारी थी। भारत ने रविवार की रात उस हार का हिसाब चुकता कर दिया है। टीम इंडिया ने पाक पर 5 विकेट से शानदार जीत दर्ज की। इससे पहले पाकिस्तान ने टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में भारत को 10 विकेट से हराया था। एशिया कप में यह पाकिस्तान के ऊपर टीम इंडिया की 9वीं जीत थी।

आइए आपको एशिया कप में भारत-पाक मैच के वो 5 यादगार मोमेंट्स बताते हैं, जिन्हें दोनों देशों के फैंस लंबे अरसे तक नहीं भुला सकेंगे।

5. राहुल की लापरवाही पड़ सकती थी टीम को भारी

केएल राहुल 2021 के टी-20 वर्ल्ड कप में जैसे बोल्ड हुए वैसे ही 2022 के एशिया कप में भी आउट हो गए।
केएल राहुल 2021 के टी-20 वर्ल्ड कप में जैसे बोल्ड हुए वैसे ही 2022 के एशिया कप में भी आउट हो गए।

केएल राहुल को टीम इंडिया के प्रतिभाशाली खिलाड़ियों में शुमार किया जाता है, लेकिन बड़े मुकाबलों में इस खिलाड़ी का बल्ला कुछ खास कमाल नहीं कर पाता। टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में पाकिस्तान के सामने 8 गेंद पर 3 रन बनाने वाले राहुल से टीम इंडिया ने एशिया कप में थोड़ी बेहतर उम्मीद की थी। पर वो इस मैच में भी उम्मीदों पर पानी फेर गए।

19 साल के युवा गेंदबाज नसीम शाह ने पहले ओवर की दूसरी बॉल 142 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से डाली। गेंद ने राहुल के बल्ले का भीतरी किनारा लिया और वह बोल्ड हो गए। पाकिस्तान के 147 पर ऑलआउट होने के जश्न में डूबे हिंदुस्तानी फैंस के चेहरों पर मायूसी पसर गई। 10 माह पहले हुई भिड़ंत में टॉप 3 इंडियन बैटर्स के फ्लॉप शो को याद कर सब सिहर गए। मिडिल ऑर्डर ने बाद में जरूर संभाल लिया, लेकिन राहुल ने अपने गैर-जिम्मेदारना रवैये से टीम को संकट में डाल ही दिया था।

4. रिजवान को पहले ही ओवर में मिले दो जीवनदान

मोहम्मद रिजवान टी-20 वर्ल्ड कप 2021 वाली फॉर्म रविवार को हुए मैच में नहीं दिखा पाए।
मोहम्मद रिजवान टी-20 वर्ल्ड कप 2021 वाली फॉर्म रविवार को हुए मैच में नहीं दिखा पाए।

भारत-पाकिस्तान मैच का पहला ओवर हर बार विशेष होता है। इस वक्त फैंस और खिलाड़ियों की धड़कनें सबसे ज्यादा तेज होती हैं। सामने स्विंग के बेताज बादशाह भुवनेश्वर कुमार हों तो मामला और रोचक हो जाता है। मुकाबले की दूसरी गेंद और रिजवान का क्रॉस बैटेड शॉट खेलने का प्रयास। वह पूरी तरह चूक जाते हैं। ऑफ स्टंप के आसपास के लेंथ की बॉल बैक थाई पैड में अटक जाती है। रिजवान के चेहरे पर हवाइयां उड़ने लगती हैं। वह आउट करार दिए जाते हैं।

भारतीय खिलाड़ी जश्न में डूब जाते हैं, लेकिन रिव्यू में पता चलता है कि गेंद विकेट के ऊपर से निकल रही है। रिजवान खोया हुआ आत्मविश्वास वापस पाने का प्रयास करते हैं, लेकिन भुवी के सामने वह असहज ही नजर आते हैं। पहले ओवर की आखिरी गेंद और स्ट्राइक पर एक बार फिर मोहम्मद रिजवान। अबकी बार रिजवान ने स्ट्रेटजी बदली। लेग साइड में आड़ा-टेढ़ा शॉट खेलने की बजाय आउटसाइड ऑफ की गेंद पर कवर्स में चौका मारने की नाकाम कोशिश।

बल्ले के बाहरी किनारे की उम्मीद में टीम इंडिया की अपील, जिसे अंपायर ने पूरी तरह नकार दिया। इंडियन टीम ने रिव्यू लिया, पता चला गेंद और बल्ले का मिलन हुआ ही नहीं था। कुल मिलाकर 2 बार रिजवान पर पहले ओवर में खतरा मंडराया और दोनों ही बार वह बड़ी मुश्किल से बचे।

3. जडेजा ने चोटिल नसीम को जड़ा जोरदार छक्का

पाकिस्तान के लिए पहला मैच खेल रहे नसीम शाह ने चोट के बावजूद मैच में शानदार गेंदबाजी की।
पाकिस्तान के लिए पहला मैच खेल रहे नसीम शाह ने चोट के बावजूद मैच में शानदार गेंदबाजी की।

भारतीय पारी के 18वीं ओवर की चौथी गेंद लेकर 19 वर्षीय पाकिस्तानी बॉलर नसीम शाह तैयार थे। स्ट्राइक पर रवींद्र जडेजा खड़े थे। गेंद आई और सीधे जडेजा के बैक पैड से जा टकराई । बॉल 141 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आई थी, जिसके सामने जडेजा को संभलने का बिल्कुल भी मौका नहीं मिला। अंपायर की उंगली जिस स्पीड से ऊपर गई, उसी स्पीड से नसीम खुद-ब-खुद जमीन पर गिर पड़े। वह क्रैंप से कराह रहे थे।

इधर नसीम संभलते, उधर जडेजा ने रिव्यू ले लिया। सब ठीक था, लेकिन सवाल इतना था कि क्या गेंद आउटसाइड लेग पिच हुई थी। जवाब था हां, और यह देख कर करोड़ों इंडियन क्रिकेट फैंस ने राहत की सांस ली। किसी तरह क्रैंप के दर्द और विकेट ना मिल पाने की निराशा से उबर कर नसीम ने अगली बॉल डाली। जडेजा ने चोटिल नसीम पर बिल्कुल रहम नहीं किया। इधर जडेजा ने रूम बनाया और उधर नसीम ने उन्हें फॉलो किया।

गेंद जडेजा के स्लॉट में आ गई और उन्होंने बॉलर के सिर के ऊपर से जोरदार छक्का जड़ दिया। अब नसीम ने अगली गेंद डालने के लिए बिल्कुल भी जल्दबाजी नहीं की। पहले ट्रीटमेंट लिया और फिर आराम से ड्रिंक्स लेकर ही गेंदबाजी की।

2. रिजवान से टक्कर के बाद भी कूल बने रहे हार्ड हिटर हार्दिक

हार्दिक और रिजवान का दोस्तान मैच के दौरान आकर्षण का केंद्र बना रहा।
हार्दिक और रिजवान का दोस्तान मैच के दौरान आकर्षण का केंद्र बना रहा।

भारत-पाकिस्तान मैच के दौरान भावनाएं उफान पर होती हैं। मैदान पर दोनों ही टीमों के खिलाड़ी अपना सर्वश्रेष्ठ देने की भरपूर कोशिश करते हैं। इस महामुकाबले में जो भी अच्छा कर जाता है, वह रातों-रात स्टार बन जाता है। टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में 10 विकेट से हार के बावजूद विराट का बाबर और रिजवान को गले लगाकर बधाई देना सुर्खियों में रहा था। कुछ फैंस को कोहली का ये अंदाज खेल भावना के अनुरूप लगा, तो कुछ फैंस विराट पर भड़क गए थे। अब कुछ ऐसी ही यारी-दोस्ती का नजारा एशिया कप में नजर आया।

भारत के मिस्टर 360 डिग्री प्लेयर कहे जा रहे सूर्या 15वें ओवर की दूसरी गेंद पर बोल्ड हो गए। अब हार्ड हिटर हार्दिक मैदान पर उतरे। मोहम्मद नवाज की गेंदबाजी के दौरान हार्दिक तेजी से रन के लिए भागे और पाक विकेटकीपर मोहम्मद रिजवान से जा टकराए। माहौल गर्मा-गर्मी वाला हो सकता था, लेकिन ठीक इसके उलट नजारा देखने को मिला। हार्दिक ने रिजवान को गले लगाया और जमकर हंसी-ठिठोली की।

दोनों को देखकर ऐसा लग रहा मानो बहुत पुराना याराना है। जबकि हकीकत ये थी कि जिस वक्त दोस्ती की नई इबारत लिखी जा रही थी, उस वक्त मैच बहुत नाजुक हालात में था। भारत को जीत के लिए 50 से अधिक रन चाहिए थे। हार्दिक का विकेट अगर पाक को मिल जाता तो भारत के लिए मुश्किलें खड़ी हो सकती थीं। पर हार्दिक ने कूल रहते हुए सिर्फ बैटिंग में जोश दिखाया। उन्होंने 17 गेंदों पर 194 की स्ट्राइक से नाबाद 33 रन जड़ दिए और आखिर में छक्का उड़ाकर मैच टीम इंडिया की झोली में डाल दिया।

1. बड़े मैच के फ्लॉप स्टार ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा बड़े मैच में फ्लॉप होने का सिलसिला जारी है।
टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा बड़े मैच में फ्लॉप होने का सिलसिला जारी है।

भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा को दुनिया हिटमैन के नाम से जानती है। पुल शॉट पर उनके छक्के देखने लायक होते हैं। पर एक पुरानी परेशानी है, बड़े मुकाबलों में वह परफॉर्म नहीं कर पाते। 2017 चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल हर भारतवासी के जेहन में ताजा है। पाकिस्तान के खिलाफ फाइनल में रोहित बगैर खाता खोले लेफ्ट आर्म पेसर मोहम्मद आमिर की गेंद पर चलते बने थे। भारत को शर्मनाक शिकस्त का सामना करना पड़ा था।

अब 2019 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल को याद करते हैं। वहां भी लेफ्ट आर्म पेसर ट्रेंट बोल्ट सामने थे। रोहित ने 4 गेंदों पर 1 रन बनाए और विकेट गंवा बैठे। उनकी खराब बल्लेबाजी का ही परिणाम रहा कि टीम इंडिया फाइनल में जगह नहीं बना सकी। ये मैच वही था, जिसमें रनआउट होकर धोनी ने इटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।

2021 के टी-20 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ शाहीन अफरीदी के सामने भी रोहित बगैर खाता खोले चलते बने थे। 10 महीनों पहले 10 विकेट से मिली उस हार के जख्म आज भी ताजा हैं।

अब बात करते हैं एशिया कप की। रोहित ने पाकिस्तान के खिलाफ 11 रन बनाते ही न्यूजीलैंड के मार्टिन गुप्टिल को सर्वाधिक रन बनाने के मामले में पीछे छोड़ दिया। 8वें ओवर की चौथी गेंद पर छक्का लगाने के बाद वो फिर छठी गेंद को मैदान के बाहर मारने का प्रयास कर रहे थे। फुल लेंथ की धीमी गेंद उनसे दूर स्पिन हो गई। बस, फिर क्या था। वह आसान कैच दे बैठे। कुल मिलाकर बड़े मुकाबलों में रोहित का खराब प्रदर्शन बदस्तूर जारी है। हां, टी-20 में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम कर रोहित ने फैंस के जख्मों पर थोड़ा मरहम लगाने का प्रयास जरूर किया है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.