Friday , June 14 2024

खनऊ के Levana होटल में भीषण आग, दो की मौत, दूसरी-तीसरी मंजिल पर फंसे कई लोग

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के एक होटल में आग लगने से हड़कंप मच गया है. शहर के बीचों-बीच यानी हजरतगंज स्थित होटल लेवाना में सोमवार सुबह आग लग गई. जब आग लगी, तब होटल के अंदर कई गेस्ट मौजूद थे. उन्हें बाहर निकाला जा रहा है. मौके पर दमकल और प्रशासन के आला अधिकारी पहुंच गए हैं. अब तक दो लोगों की मौत हो गई है.

अधिकारियों को CM योगी ने दिए निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना को लेकर प्रशासन के आला अधिकारियों से बात की है. सीएम योगी ने जिला प्रशासन के अधिकारियों को घायलों का समुचित उपचार कराने के निर्देश दिए हैं. इसके साथ ही जिलाधिकारी और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को मौके पर तत्काल पहुंचने और राहत – बचाव कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए है.

खिड़की तोड़कर बाहर निकाले जा रहे हैं गेस्ट

आग लगने की वजह अभी तक सामने नहीं आई है, लेकिन होटल के अंदर धुएं का गुबार है. कमरों में फंसे लोगों को निकालने के लिए दमकल विभाग की टीम मशक्कत कर रही है. यहां तक की खिड़की तोड़े जा रहे हैं. कुछ लोगों के घायल होने की भी खबर है, लेकिन इसकी पुष्टि अभी तक नहीं हुई है. मौके पर दमकल विभाग की आधा दर्जन से अधिक गाड़ियां मौजूद हैं.

इसके अलावा लखनऊ पुलिस के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए हैं. बताया जा रहा है कि आग आज सुबह करीब 6 बजे लगी. देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया और कमरों में धुएं का गुबार हो गया. लोगों के दम घुटने लगे. मौके पर पहुंची दमकल विभाग की टीम को सबसे बड़ी दिक्कत कमरों से लोगों को बाहर निकालने में आ रही है.

आग की वजह से होटल के सभी कमरे में धुआं भरा हुआ है. इस वजह से दमकल विभाग की टीम होटल की खिड़कियों को तोड़कर लोगों को बाहर निकाल रही है. सुबह 9 बजे तक करीब दो घंटे तक रेस्क्यू ऑपरेशन चल चुका है. मौके पर मौजूद अधिकारियों का कहना है कि हमने अभी तक कई लोगों को बाहर निकाल लिया है और जो लोग फंसे हैं, उनको बाहर निकालने की कोशिश जारी है.

गनीमत की बात है कि अभी तक कोई जनहानि नहीं हुई है. हालांकि, दम घुटने के बाद कुछ लोगों की तबीयत जरूर बिगड़ी है, जिन्हें पास के अस्पताल में पहुंचाया गया है. फिलहाल दमकल विभाग की टीम लोगों को बाहर निकालने की कोशिश में जुटी हुई है.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch